पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड: फरार चल रहे ओलंपिक विजेता पहलवान सुशील कुमार पंजाब से गिरफ्तार

पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड: फरार चल रहे ओलंपिक विजेता पहलवान सुशील कुमार पंजाब से गिरफ्तार

चंडीगढ़।पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में दिल्ली पुलिस को बड़ी सफलता मिली है और पुलिस ने इस मामलेे में आरोपित ओलंपियन सुशील कुमार और उसके राइट हैंड अजय को गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस ने सुशील और उसके साथी अजय को पंजाब से कुछ देर पहले ही पकड़ा है। अब इन्हें दिल्ली लाने की तैयारी की जा रही है ताकि इनसे पूछताछ की जा सके। पहलवान सुशील पर पुलिस ने एक लाख रुपये और वहीं अजय पर 50 हजार रुपये का इनाम रखा था।

गौरतलब है कि,दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में बीते चार मई को एक घटना हुई थी जिसके बाद से पहलवान सुशील लापता हो गया। मॉडल टाउन थाना पुलिस के अनुसार छत्रसाल स्टेडियम में फायरिंग हुई थी जिसके बाद जब जांच की गई तब यह पता चला कि यहां पर कुछ पहलवानों के बीच झगड़ा हुआ था।इसमें घायल पहलवानों को अस्पताल में भर्ती भी कराया गया था हालांकि पुलिस को मौके पर कोई चश्मदीद नहीं मिला था। वहीं बाहर खड़ी गाड़ियों से कुछ बंदूक और कारतूस मिले थे। यहां पर एक पहलवान सागर धनखड़ की हत्या हुई थी जिसमें ओलंपियन सुशील का नाम सामने आया। वहीं इस पूरी घटना के बाद से सुशील लापता हो गया।

पुलिस की पकड़ से बचने के लिए पहलवान सुशील लगातार अपने ठिकाने बदल रहा था। उसे पकड़ने के लिए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम लगी हुई थी। दिल्ली सहित कई राज्यों में लगातार छापेमारी कर उसके ठिकाने का पता लगाया जा रहा था। इसी क्रम में यह पला चला कि पहलवान सुशील मेरठ के टोल प्लाजा पर देखा गया था जहां से अंदाजा लगाया जा रहा था कि वह उत्तराखंड भागने की फिराक में था।

जिसके बाद इस बात का भी खुलासा हो गया कि सुशील कुमार मेरठ के सिवाया टोल प्लाजा से कई बार गाड़ी बदल-बदलकर गुजरा है। दिल्ली पुलिस ने टोल प्लाजा से सभी फुटेज कब्जे में लेकर जांच कर उसके लोकेशन को ट्रेस करने में लगी थी। वहीं इसी बीच उसके हरिद्वार में भी छिपने की खबर मीडिया की सुर्खियों में रही। हालांकि आखिरकार पुलिस ने उसे पंजाब से पकड़ने में सफलता पाई।

छत्रसाल स्टेडियम में हुई पहलवान सागर धनखड़ की हत्या की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक,उसकी मौत की वजह जो बताई गई है वह है उसके सिर पर किसी भारी भरकम चीज से चोट करना। बताया जा रहा है कि किसी लोहे की रॉड या लकड़ी के मोटे डंडे से मारे जाने की वजह से सागर के सिर में यह गंभीर चोटों के निशान आए जिसके उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि सिर पर चोट लगने से वह फट गया जिसके कारण काफी मात्रा में खून बहा था।

 

 

Share