क्यों रो पड़े उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन,जानिए 

सियोल। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन अपनी पार्टी के 75वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में रोते हुए मांगी माफी है। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि वे उस विश्वास पर खरे नहीं उतर सके हैं,जो उत्तर कोरियाई लोगों को उन पर था और वे इसके लिए क्षमा चाहते हैं।

गॉर्जियन की रिपोर्ट के अनुसार,किम ने पहली बार अपने देश के लोगों से कोरोना महामारी के दौरान लोगों के साथ ठीक से खड़े न हो पाने की वजह से माफी मांगी है। पार्टी के 75वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में किम ने स्वीकारते हुए कहा कि वे जनता के उस विश्वास पर खरे नहीं उतर पाए हैं,जो कि जनता का उन पर था और इसके लिए माफी मांगते हैं।

भाषण के दौरान किम ने अपना चश्मा उतारा और आंसू पोंछते हुए अपने पूर्वजों द्वारा किए गए कार्यों का जिक्र किया और कहा कि मुझे भी इस देश का नेतृत्व करने की जो जिम्मेदारी दी गई है,वह किम 2-सुंग और किम जोंग-इल के कारण मिली है। किम ने उन पर विश्वास रखने के लिए जनता को धन्यवाद देते कहा कि मेरे प्रयास और ईमानदारी लोगों की कठिनाइयों को दूर करने के लिए पर्याप्त नहीं हैं।

कोरोनावायरस की कठिन परिस्थितियों जिक्र करते हुए उन्होंने वैश्विक चर्चा करते हुए दक्षिण कोरिया के साथ संबंध अपने संबंध सुधारने की इच्छा भी जताई। बीते शनिवार को सैन्य परेड के दौरान उत्तर कोरिया ने अपनी नवीनतम मिसाइल का भी प्रदर्शन किया,जो कि आईसीएमबीएस से भी बड़ी है।एजेंसी