WhatsApp Data Policy: जानें क्या है खतरा

Privacy concern को लेकर लोग हुए सतर्क

WhatsApp ने 5 जनवरी को अपनी नई पॉलिसी (New Policy) लोगों को भेजना शुरू कर दिया है.साथ ही पूरी दुनिया में WhatsApp की नई पॉलिसी को लेकर चर्चा शुरू हो गई है.अगर आपको WhatsApp नई पॉलिसी के बारे में नहीं पता है तो यहां जानिए क्या हैं शर्तें और क्यों उठ रहे हैं सवाल…

WhatsApp के नए Term & Condition में साफ लिखा है कि कंपनी आपका Device ID,यूजर आईडी,फोन नंबर, ईमेल आईडी,सभी Contacts जैसी अहम जानकारियां लेगा.

आपके लेन-देन की जानकारी भी लेगा
प्राप्त जानकारी के मुताबिक WhatsApp आपके मोबाइल से होने वाले लेन-देन की भी जानकारी लेगा.नई शर्तों के तहत WhatsApp आपके मोबाइल से पेमेंट इंफो (Payment Info),पर्चेस हिस्ट्री (Purchase History) और Advertising Data लेगा.

बातचीत भी होगी रिकॉर्ड
नई पॉलिसी के तहत WhatsApp आपके फोन से होने वाली बातचीत भी रिकॉर्ड कर सकता है.कंपनी ने साफ कहा है कि फोन से होने वाली ऑडियो और वीडियो कॉल्स को रिकॉर्ड किया जाएगा.

लोकेशन की भी होगी जानकारी
WhatsApp ने एक शर्त ये भी जोड़ी है कि ऐप आपके फोन की लोकेशन लेता रहेगा. यानी आप कहीं भी रहेंगे WhatsApp आपको ट्रैक करता रहेगा

आपकी जानकारी होगी फेसबुक और इंस्टाग्राम से होगी शेयर
WhatsApp ने अपनी शर्तों में कहा है कि आपके मोबाइल से ली जाने वाली सारी जानकारियां फेसबुक (Facebook) और इंस्टाग्राम (Instagram) के साथ शेयर की जाएगी.जानकारों का कहना है कि अगर WhatsApp की जानकारियां फेसबुक और इंस्टाग्राम से शेयर की गई तो आपकी प्राइवेसी को ज्यादा खतरा है.मसलन,आपके फोन से ली गई लेन-देन की जानकारी के हिसाब से फेसबुक आपको ज्यादा से ज्यादा ऐड्स दिखाएगा.इसके अलावा इंस्टाग्राम में भी इसी डेटा के हिसाब से ज्यादा से ज्यादा प्रोडक्ट्स बेचने की कोशिश की जाएगी.

आपके पास पॉलिसी मानने के अलावा कोई चारा नहीं
जी हां.ये सच है कि WhatsApp यूज करने के लिए इन शर्तों को मानना ही होगा. इसके अलावा कोई दूसरा ऑप्शन नहीं दिया गया है.कंपनी ने साफ संकेत दिया है कि जो नई पॉलिसी को मानेगा वही WhatsApp का इस्तेमाल कर पाएगा. नहीं मानने वालों के पास इस मैसेजिंग ऐप को बंद करने के अलावा कोई चारा नहीं है.

8 फरवरी तक लेना होगा फैसला
अगर आपके पास WhatsApp की ओर से नई पॉलिसी का नोटिफिकेशन आ गया है तो आपको इसे एक्सेप्ट करना होगा.यूजर्स को फिलहाल Accept Later का ऑप्शन भी दिया गया है.लेकिन WhatsApp ने इन शर्तों को मानने के लिए 8 फरवरी तक का समय दिया है.8 फरवरी के बाद पॉलिसी एक्सेप्ट नहीं करने वाले इस ऐप का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.

साभार: ज़ी न्यूज़