पश्चिम बंगाल: 2 मई को 108 मतदान केंद्रों पर होगी मतगणना, TMC ने उठाये सवाल

पश्चिम बंगाल: 2 मई को 108 मतदान केंद्रों पर होगी मतगणना, TMC ने उठाये सवाल

पश्चिम बंगाल। पश्चिम बंगाल विधानसभा की 292 सीटों की मतगणना 2 मई 108 मतदान केंद्रों पर होगी. चुनाव आयोग के निर्देश के अनुसार मतगणना के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल की सख्ती से पालन किया जाएगा।बता दें कि पश्चिम बंगाल के विधानसभा की सीटों की संख्या 294 है,लेकिन कोरोना संक्रमित होने के कारण दो उम्मीदवारों की मौत हो गई है।16 मई को मुर्शिदाबाद जिला की जंगीपुर और शमशेरगंज विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी।

उल्लेखनीय है कि बंगाल में 8 चरणों में चुनाव कराये जा रहे हैं।पहले चरण की वोटिंग 27 मार्च को हुई थी। इसके बाद दूसरे,तीसरे,चौथे, पांचवें, छठे और सातवें चरण का मतदान क्रमश: 1 अप्रैल, 6 अप्रैल, 10 अप्रैल, 17 अप्रैल, 22 अप्रैल और 26 अप्रैल को हुआ।आठवें और अंतिम चरण की वोटिंग 29 अप्रैल को होगी।इसके साथ ही 292 सीटों पर मतदान संपन्न हो जायेगा।

कोविड 19 के खतरे के कारण पश्चिम बंगाल दो मई को होने वाली मतगणना के मद्देनजर चुनाव आयोग ने गाइडलाइंस जारी की है। प्रत्याशियों और उनके एजेंट के लिए आरटीपीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य कर दिया है।अगर रिपोर्ट नहीं है तो वैक्सीन की दोनों डोज का सर्टिफिकेट देना पड़ेगा। इसके अभाव में मतगणना स्थल पर प्रवेश नहीं मिलेगा। दूसरी ओर, टीएमसी ने चुनाव आयोग को पत्र देकर कोरोना प्रोटोकॉल के कुछ मुद्दे को लेकर सवाल उठाये हैं।

सात चरणों के मतदान के दौरान विभिन्न राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों द्वारा 27,945 शिकायतें शिकायतें चुनाव आयोग में दर्ज की गई हैं तथा कुल 336 करोड़ 49 लाख रुपए की संपत्ति जब्त की गई है।चुनाव आयोग ने कोविड-19 के सुरक्षा नियमों का पालन नहीं करने के लिए कई उम्मीदवारों के खिलाफ मामला दर्ज कराया और उन्हें कारण बताओ नोटिस भेजे गये हैं।आयोग ने बताया कि अंतिम चरण के चुनाव में भी कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया जायेगा।पश्चिम बंगाल समेत देश में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी के कारण रोड शो और वाहनों की रैलियों पर पाबंदी लगाये जाने के कारण विभिन्न दलों ने अधिकतम 500 भागीदारों के साथ छोटी-छोटी रैलियां की या डिजिटल तरीके से सभा का आयोजन किया गया।

 

 

Share