महर्षि वाल्मीकि जयंती पर स्वयंसेवकों ने की गोष्ठी 

महर्षि वाल्मीकि जयंती पर स्वयंसेवकों ने की गोष्ठी 

फ़िरोज़ाबाद।मंगलवार को लेबर कॉलोनी स्थित महर्षि वाल्मीक मंदिर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सामाजिक समरसता गतिविधि के द्वारा भगवान महर्षि वाल्मीकि की जयंती के अवसर पर एक गोष्ठी का आयोजन किया गया।कार्यक्रम का प्रारंभ सह विभाग कार्यवाह बृजेश यादव एवं नगर सामाजिक समरसता प्रमुख मानसिंह के द्वारा भगवान वाल्मीकि की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर व दीप प्रज्वलित कर किया गया।स्वयंसेवकों ने इससे पूर्व प्रातःकाल में मंदिर की साफ सफाई की।

इस मौके पर सह विभाग कार्यवाह बृजेश यादव ने स्वयंसेवकों व स्थानीय नागरिकों से महर्षि वाल्मीकि के द्वारा बताये मार्ग पर चलने की प्रेरणा दी।उन्होंने कहा कि सैकड़ों वर्ष के गुलामी के कालखंड के दौरान विदेशी ताकतों ने जात-पात,ऊँच-नीच,छूत-अछूत के नाम पर विभिन्न प्रकार के षडयंत्र रचकर हिंदू समाज को तोड़ने के अनेकों प्रयत्न किये,परंतु महर्षि वाल्मीकि जैसे महापुरुषों के द्वारा प्रदान की गई शिक्षा व उनके द्वारा स्थापित आदर्शों के कारण आज संपूर्ण हिंदू समाज एक बार पुनः एकजुट होकर राष्ट्र निर्माण के कार्य में जुट चुका है। भारत माता को परम वैभव के शिखर पर ले जाने की दिशा में अग्रसर हो रहा है।कार्यक्रम के उपरांत प्रसाद का वितरण किया ।तत्पश्चात स्वयंसेवकों द्वारा दीपक से सातिया चिन्ह बनाकर भगवान वाल्मीकि को नमन किया गया।

 

Share