अमेरिका ने एयर स्ट्राइक कर तालिबान के ठिकानों को किया तबाह

अमेरिका ने एयर स्ट्राइक कर तालिबान के ठिकानों को किया तबाह

वॉशिंगटन। अमेरिका ने अफगानिस्तान के भीतर तालिबान के ठिकानों को निशाना बनाकर हवाई हमले किए हैं।इस बात की जानकारी अमेरिकी रक्षा विभाग के मुख्यालय पेंटागन ने दी है। हमलों में तालिबान के कितने ठिकाने ढेर हुए हैं,इसकी जानकारी नहीं दी गई।

पेंटागन के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने अफगान सरकारी बलों का जिक्र करते हुए कहा, ‘बीते कई दिनों से,हमने ANDSF को समर्थन देने के लिए हवाई हमले किए हैं। हम ANDSF का साथ देने के लिए हवाई हमले करना जारी रखेंगे।’ उन्होंने प्रेस ब्रीफिंग के दौरान पत्रकारों से कहा कि ये हमले अमेरिकी सेना की सेंट्रल कमांड के प्रमुख जनरल कैनेथ मकैंजी की देखरेख में हुए हैं।

किर्बी ने कहा कि वह हवाई हमलों पर अधिक जानकारी नहीं दे सकते,लेकिन उन्होंने रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन के बुधवार के बयान को दोहराया, जिसमें उन्होंने कहा था कि संयुक्त राज्य अमेरिका ‘अफगान सुरक्षा बलों और अफगान सरकार को आगे बढ़ने में मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है।’ अमेरिकी वायु सेना ने लंबे समय से अफगान बलों को तालिबान के खिलाफ एक सामरिक मदद प्रदान की है।लेकिन अब अफगानिस्तान से अंतरराष्ट्रीय सैनिकों की वापसी से तालिबान का डर मिट गया है।

अफगानिस्तान में अमेरिका के हवाई हमलों की खबरें तब आयी है जब एक दिन पहले अमेरिका के सबसे वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने माना कि तालिबान ने ‘रणनीतिक गति’ हासिल कर ली है और अफगानिस्तान के 400 से अधिक जिला केंद्रों के करीब आधे हिस्सों पर अब उसका कब्जा है।

सीएनएन की एक खबर के अनुसार,एक रक्षा अधिकारी ने बताया कि अमेरिकी सेना ने पिछले 30 दिनों में तकरीबन छह या सात हवाई हमले किए, जिनमें ज्यादातर हमले ड्रोन से किए गए।

वॉयस ऑफ अमेरिका की खबर के मुताबिक,एक अमेरिकी रक्षा अधिकारी ने बृहस्पतिवार को बताया कि हमलों में उन सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया गया जिन्हें तालिबान ने एएनडीएसएफ से अपने कब्जे में ले लिया था।वहीं,अमेरिकी केंद्रीय कमान ने हाल में कहा कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की वापसी 95 प्रतिशत से अधिक तक पूरी हो गयी है।राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा है कि सेना की वापसी अगस्त के अंत तक पूरी हो जाएगी।

Share