रिंकू शर्मा के लिए 1 करोड़ जुटाने वाली वैशाली पोद्दार का ट्विटर ने किया अकाउंट सस्पेंड

रिंकू शर्मा के लिए 1 करोड़ जुटाने वाली वैशाली पोद्दार का ट्विटर ने किया अकाउंट सस्पेंड

नई दिल्ली सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर ने भाजपा नेता वैशाली पोद्दार का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया है। दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने बताया कि ट्विटर ने बिना कोई कारण बताए ये हरकत की है। उन्होंने ‘ब्रिंग बैक वैशाली’ हैशटैग ट्रेंड कराने की भी अपील की। वैशाली पोद्दार दिल्ली के मंगोलपुर में हुए रिंकू शर्मा हत्याकांड के बाद उनके परिजनों के लिए धन इकट्ठा करने के अभियान में शामिल रही थीं।

उन्होंने ही ‘Crowdcash’ नामक वेबसाइट पर रिंकू शर्मा के परिवार के लिए धन दान करने हेतु अपील की थी, जिसका पूर्व मंत्री कपिल शर्मा ने समर्थन किया था। इस अभियान के तहत 1 करोड़ रुपए की धनराशि इकट्ठी कर के रिंकू शर्मा के परिवार को दी गई। वैशाली ट्विटर के माध्यम से लगातार इस अभियान का प्रचार-प्रसार कर रही थीं और रिंकू शर्मा के परिवार को न्याय दिलाने की माँग भी कर रही थीं।

वैशाली पोद्दार ट्यूनीशिया में भारतीय प्रतिनिधि के रूप में जा चुकी हैं। उन्होंने भाजयुमो में जिला उपाध्यक्ष और भाजपा में जिला आईटी इंचार्ज का पद संभाला था। साथ ही वो BJYM दिल्ली की स्टेट एग्जीक्यूटिव सदस्य भी रह चुकी हैं। रिंकू शर्मा की याद में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में भी वो उपस्थित रही थीं। रमेश सोलंकी और कपिल मिश्रा सहित कई नेताओं ने उनके समर्थन में ट्विटर इंडिया को टैग कर के ट्वीट किया।

बिहार से ताल्लुक रखने वाली वैशाली पोद्दार के समर्थन में कई अन्य लोगों ने भी ट्वीट्स किए। एक यूजर ने लिखा कि राष्ट्रवादियों के अकाउंट को लगातार निशाना बनाया जा रहा है और अमेरिका के बाद ट्विटर अब भारत में इस तरह की हरकतें कर रहा है। कई लोगों ने पूछा कि क्या किसी हिन्दू की हत्या के बाद उसके परिवार की सहायता करना कोई अपराध है? लोगों ने सरकार से भी ट्विटर के खिलाफ कार्रवाई की माँग की।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.