टोक्यो ओलंपिक: हॉकी में भारत ने जापान को 5-3 से हराया

टोक्यो ओलंपिक: हॉकी में भारत ने जापान को 5-3 से हराया

टोक्यो: टोक्यो ओलंपिक में क्वार्टर फाइनल में एंट्री कर चुकी भारतीय हॉकी टीम का शानदार प्रदर्शन जारी है।शुक्रवार को भारत ने मेजबान जापान को 5-3 से हरा दिया।भारत के लिए सिमरनजीत सिंह,शमशेर सिंह और नीलकांता शर्मा ने 1-1 गोल किया. वहीं गुरजंत सिंह ने 2 गोल दागे. जापान की ओर से टनाका,वतनाबे और मुराटा कजूमा ने गोल किया।बता दें ये भारत की लगातार तीसरी जीत है।ऑस्ट्रेलिया से हार झेलने के बाद भारतीय टीम ने स्पेन,अर्जेंटीना के बाद अब जापान को भी हरा दिया है. मेजबान जापान इस ओलंपिक में एक भी मैच नहीं जीत पाया।

भारतीय टीम पिछले दो मैचों में जीत के बाद उत्साह और आत्मविश्वास के साथ जापान के खिलाफ उतरी.भारत की ओर से पहला गोल 13वें मिन में हरमनप्रीत सिंह ने किया।हरमनप्रीत ने पेनल्टी कॉर्नर पर जापानी गोलकीपर टाकाशी योशीकावा को छकाया. पहले क्वार्टर में एक ही गोल हुआ। इसके बाद दूसरा क्वार्टर शुरू होते ही भारत ने दूसरा गोल दाग दिया।सिमरनजीत सिंह और गुरजंत सिंह की जोड़ी ने मिलकर भारत को 2-0 से आगे कर दिया।सिमरनजीत के बेहतरीन पास को गुरजंत ने आसानी से गोल पोस्ट में डाल दिया.हालांकि 19वें मिनट में जापान ने पलटवार कर भारतीय खेमे में थोड़ी खलबली जरूर मचाई।डिफेंडर बिरेंद्र लाकड़ा की एक गलती का केंटा टनाका ने फायदा उठाया और उन्होंने पलक झपकते ही गोलपीकर श्रीजेश को छका दिया।पहला हाफ खत्म होने तक भारत को 2-1 की बढ़त हासिल रही।

दूसरा हाफ शुरू होते ही भारत को बड़ा झटका लगा.जापान की ओर से कोटा वतनाबे ने गोल दाग जापान को 2-2 की बराबरी पर ला खड़ा किया। हालांकि जापान की ये खुशी एक मिनट के बाद ही उस वक्त गायब हो गई जब 34वें मिनट में शमशेर सिंह ने नीलकांता शर्मा के शॉट को अपनी हॉकी स्टिक से मोड़कर गेंद को गोल पोस्ट में दाग दिया।भारत 3-2 से आगे हो गया. 51वें मिनट में नीलकांता शर्मा ने एक बार फिर कमाल दिखाते हुए भारत को 4-2 से आगे कर दिया। 5 मिनट बाद गुरजंत सिंह ने अपना दूसरा गोल दागा। उन्होंने वरुण कुमार से मिले पास का भरपूर फायदा उठाते हुए जापानी गोलकीपर को आसानी से छका दिया। इस तरह भारत 5-2 से आगे हो गया। हालांकि 59वें मिनट में टनाका ने एक और गोल दाग जापान की ओर से तीसरा गोल किया लेकिन समय समाप्त होने तक भारत 5-3 से आगे रहा और उसने टोक्यो ओलंपिक में अपनी चौथी जीत दर्ज कर ली।

Share