चाय को लेकर रिसर्च में सामने आई ये बात,चाय के शौकीन जरूर पढ़े

हेल्थ डेस्क । चाय पीना हर किसी को पसंद होता है। ज्यादातर लोग सुबह- सुबह आंख खुलते के साथ ही चाय पीते है।

इतना ही नहीं ऑफिस के काम के बीच चाय इंसान के दिमाग को तरोताजा कर देती है पहले लोग ब्लैक और दूध वाली ही चाय पीते थे, लेकिन वक्त के साथ चाय कई तरह की हो गई है।

अब लोग रेगुलर चाय पीने की बजाय ग्रीन, लेमन टी और भी कई तरह की चाय पीते हैं लोगों को लगता है कि चाय पीना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है लेकिन चाय के कई फायदें होते है। जितने तरह की चाय होती हैं उतने ही इसके फायदे भी होते हैं।आपको बता दें कि अक्सर लोग ग्रीन टी का इस्तेमाल वेट मैनेज करने के दौरान करते हैं।

ग्रीन टी के फायदे
ग्रीन टी के एंटीऑक्सिडेंट मूत्राशय, स्तन, फेफड़े, पेट, अग्नाशय और कोलोरेक्टल कैंसर के विकास में हस्तक्षेप कर सकते हैंसाथ ही मस्तिष्क पर धमनियों के जलने, वसा को जलाने, प्रतिगामी ऑक्सीडेटिव तनाव को रोकने में भी सहायक माने जाते हैं।

ब्लैक टी में कैफीन की मात्रा सबसे ज्यादा पाई जाती है ब्लैक टी एंटी-ऑक्सीडेंट प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

कई रिसर्च में यह बात सामने आई है कि जो लोग ब्लैक टी का सेवन करने हैं उनका स्वास्थ्य बेहतर रहता है और वो लोग कम बीमार पड़ते हैं एक अध्ययन की माने तो सफेद चाय में अधिक प्रसंस्कृत चाय की तुलना में सबसे शक्तिशाली एंटीकैंसर गुण पाए जाते हैं।

वाइट टी में एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो शरीर के कोलेस्ट्रोल एवं ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक साबित हो सकता है। एजेंसी