राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने पंचायत निर्वाचन डयूटी के कारण मृत शिक्षकों की सूची शासन-प्रशासन को भेजी

मृतकों को रुपये 50 लाख की आर्थिक मदद एवं आश्रितों को नौकरी देने की मांग
मथुरा। राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ मथुरा ने त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन ड्यूटी में ड्यूटी के कारण कोविड-19 से मृत परिषदीय शिक्षकों,शिक्षामित्रों अनुदेशकों,लिपिकों एवं सेवकों को धनराशि रुपये 50- 50 लाख की आर्थिक मदद प्रदान करने एवं अनुकंपा के आधार पर सरकारी नौकरी देने और कोरोना से मृत शिक्षकों को कोरोना वॉरियर्स घोषित करने की मांग की है।
राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ मथुरा के जिलाध्यक्ष मुकेश शर्मा ने जिलाधिकारी व निर्वाचन अधिकारी मथुरा,मुख्य विकास अधिकारी एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी मथुरा को ई मेल द्वारा प्रेषित मांग पत्र में कहा है कि त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन 2021 को शांतिपूर्ण और निष्पक्ष रूप से संपन्न कराने के लिए शासन,स्थानीय प्रशासन और निर्वाचन आयोग के द्वारा शिक्षकों,शिक्षामित्रों, अनुदेशकों,लिपिकों एवं सेवकों को मतदान अधिकारी और मतगणना कर्मचारी के रूप में नियुक्त किया गया था। उन्होंने कहा है कि निर्वाचन कार्य से संबंधित प्रभारी अधिकारियों द्वारा निर्वाचन प्रशिक्षण स्थल,निर्वाचन रवानगी स्थल,मतदान केंद्रों,मतगणना प्रशिक्षण स्थल एवं मतगणना स्थल केंद्रों पर केंद्र सरकार,राज्य सरकार और न्यायालय द्वारा जारी कोविड-19 की गाइडलाइन का  पूर्णतः पालन नहीं कराया गया। कारण असंख्य निर्वाचन कर्मी कोविड 19 संक्रमित हो गए। इसके फलस्वरूप जनपद में 14 मतदान कर्मियों की अकाल मृत्यु हो गई।
जिलाध्यक्ष मुकेश शर्मा ने बताया है कि निर्वाचन ड्यूटी के कारण ब्लॉक छाता के सुरेश सिंह प्रधानाध्यापक प्रा०वि० बहटा, सुरेश चंद्र स०अ०,उ० प्रा०वि० तूमोरा एवं हरिमोहन शर्मा,सेवक उ०प्रा०वि० नगला भदावल, ब्लॉक मथुरा से रंजना श्रीवास्तव स०अ० प्रा०वि० खामिनी,एसआरजी रंजना श्रीवास्तव प्र० अ० प्रा० वि० बाकलपुर,उषा कुमारी शर्मा स०अ० उ०प्रा०वि० रामताल,ब्लॉक राया से शुभांगी स०अ० उ०प्रा०वि० विरहना,गुलवीर सिंह शिक्षामित्र प्रा०वि० गढ़ी सियार ब्लॉक फरह के नीरज कुमार स०अ० प्रा० वि० हथियावली,राजकुमार लिपिक नारायण दास हाईस्कूल (सहायता प्राप्त) रैपुराजाट, ब्लॉक चौमुंहा से सुमनलता अग्रवाल स०अ० उ०प्रा०वि० नरी,मनोज कुमार शिक्षामित्र प्रा०वि० तकिया एवं गोवर्धन ब्लॉक से कुसुम देवी शिक्षामित्र प्रा०वि० गोवर्धन-प्रथम एवं रामेश्वर सिंह अनुदेशक उ०प्रा०वि० मडौरा का निर्वाचन प्रशिक्षण,निर्वाचन ड्यूटी,मतगणना प्रशिक्षण,अथवा मतगणना ड्यूटी के दौरान कोविड-19 से संक्रमित होने से बाद में उपचार के दौरान अलग-अलग तिथियों में अकाल मृत्यु हो गई है।
 जिलाध्यक्ष ने बताया है कि संबंधित मृतकों की सूची मांग पत्र सहित जिलाधिकारी,मुख्य विकास अधिकारी,प्राचार्य डाइट एवं प्रभारी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी मथुरा के साथ ही मुख्यमंत्री उ०प्र०,बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उ०प्र०,अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा,महानिदेशक स्कूल शिक्षा,शिक्षा निदेशक बेसिक शिक्षा लखनऊ,सचिव बेसिक शिक्षा परिषद प्रयागराज,
मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक आगरा मंडल,स्थानीय अभिसूचना इकाई मथुरा को भी ई मेल पर उपलब्ध करा दी है।
 मुकेश शर्मा जिलाध्यक्ष ने कहा है कि निर्वाचन डयूटी के दौरान कोविड-19 से अकाल मृत्यु को प्राप्त शिक्षकों,शिक्षामित्रों,अनुदेशकों,लिपिकों एवं सेवकों को जिलाधिकारी राहत,मुख्यमंत्री राहत अथवा प्रधानमंत्री राहत कोष से प्रत्येक को धनराशि रुपये 50-50 लाख की तत्कालिक आवश्यकता के आधार पर आर्थिक मदद की जाय। साथ ही अनुकंपा के आधार पर मृतक के परिजनों को शीघ्र ही सरकारी नौकरी उपलब्ध कराई जाए और सभी मृतकों को कोरोना वॉरियर्स घोषित किया जाय।
Share