देश में चमका मध्‍य प्रदेश का नाम,प्रदेश की स्मार्ट सिटी को मिले 11 अवॉर्ड

देश में चमका मध्‍य प्रदेश का नाम,प्रदेश की स्मार्ट सिटी को मिले 11 अवॉर्ड

मध्‍य प्रदेश।किसी ने सच ही कहा है कि आखिरकार आपका काम ही आपकी पहचान बनाता है और दुनिया में जय-जय कार कराता है। ऐसी ही पहचान मिली है मध्‍य प्रदेश को,जिसके चलते आज चहूंओर मध्य प्रदेश के जय-जय कार नारे गूंज रहे हैं। दरअसल,प्रदेश की स्मार्ट सिटी को 11 अवॉर्ड मिले हैं। अन्‍य राज्‍यों की तुलना में मध्‍य प्रदेश अपने कार्य की प्रगति एवं उसमें कुशलता की दृष्टि से अव्‍वल आया है। इसी कारण से मध्य प्रदेश लाइम लाइट में है।

गौरतलब हो,प्रधानमंत्री मोदी का सपना है कि देश के सभी बड़े मध्‍यम और छोटी श्रेणी के शहर स्‍मार्ट बन जाएं ताकि वहां के रहवासियों का जीवन सुगम एवं सहज हो सके। रोजगार से लेकर तमाम अवसर इन शहरों में रहनेवालों को आसानी से मुहैया हों और वे खुशनुमा माहौल में अपना संपूर्ण जीवन यापन कर पाएं। इस सपने को पूरा करने के लिए जहां प्रधानमंत्री मोदी के सफल नेतृत्‍व में तमाम योजनाएं शुरू की गईं तो वहीं स्‍मार्ट सिटी का प्रोजेक्‍ट सामने रखा गया। देश भर में इसे लेकर काम शुरू हुआ,जिसका नतीजा अब सभी के सामने हैं।

इंडिया स्मार्ट सिटी कॉन्टेस्ट 2020 के परिणाम घोषित

बताना चाहेंगे कि केन्द्र सरकार द्वारा शुक्रवार को इंडिया स्मार्ट सिटी कॉन्टेस्ट 2020 के परिणाम घोषित किये गए हैं। इसमें मध्यप्रदेश को राज्यों की श्रेणी में दूसरा पुरस्कार मिला है,जबकि प्रदेश की पांच स्मार्ट सिटी को विभिन्न श्रेणियों में 11 पुरस्‍कार प्राप्त हुए हैं।

मध्यप्रदेश की सात स्मार्ट सिटी में से पांच को मिला पुरस्‍कार

इस संबंध में स्मार्ट सिटी मिशन के छह वर्ष पूरे होने पर भारत सरकार के आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी द्वारा वर्चुअल मीट के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में ‘इंडिया स्मार्ट सिटी कांटेस्ट-2020’के परिणाम घोषित किये गए , जिसमें कि मध्यप्रदेश की सात स्मार्ट सिटी में से पांच को पुरस्‍कार मिला है। इंडिया स्मार्ट सिटी कॉन्टेस्ट में मध्यप्रदेश को 20 अवॉर्ड में से 11 अवॉर्ड मिले हैं। पुरस्‍कारों में इंदौर का बोलबाला रहा।

मध्यप्रदेश को 20 अवॉर्ड में से 11 अवॉर्ड मिले

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ-साथ राज्य के नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने इस उपलब्धि पर खुशी जाहिर करते हुए बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट के माध्यम से कहा है कि इंडिया स्मार्ट सिटी कॉन्टेस्ट 2020 में मध्य प्रदेश की पांच स्मार्ट सिटी को विभिन्न श्रेणियों में कुल 11 अवॉर्ड प्राप्त हुए हैं। इस उपलब्धि पर प्रदेश की जनता को हार्दिक बधाई। वहीं राज्यों की श्रेणी में मध्य प्रदेश द्वितीय स्थान पर रहा। स्थानीय जिला एवं निकाय प्रशासन बधाई के पात्र हैं। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने भी इस उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए पूरे स्टाफ की सराहना की है। उन्होंने सागर सहित भोपाल,इंदौर,ग्वालियर और जबलपुर के प्रशासन और स्थानीय लोगों को भी इस कामयाबी के लिये बधाई दी है। इंदौर के साथ ही सूरत को भी प्रथम स्थान मिला है।

इन क्षेत्रों में मिले हैं प्रदेश को पुरस्‍कार

प्रोजेक्ट अवॉर्ड
-बिल्ट एनवायर्नमेंट थीम-इंदौर को 56 दुकान प्रोजेक्ट के लिए प्रथम स्थान मिला।
-सेनिटेशन थीम-इंदौर को तिरुपति शहर के साथ म्युनिसिपल वेस्ट मैनेजमेंट सिस्टम थीम में प्रथम स्थान मिला।
-कल्चर थीम-इंदौर को कन्जरवेशन ऑफ बिल्ट हेरिटेज के लिए प्रथम स्थान एवं ग्वालियर को डिजिटल म्यूजियम के लिए तृतीय स्थान प्राप्त हुआ।
-इकॉनॉमी थीम-इंदौर को कार्बन क्रेडिट फाइनेंसिंग मेकेनिज्म के लिए प्रथम स्थान प्राप्त हुआ।
-अर्बन एनवायर्नमेंट थीम-भोपाल को चेन्नई के साथ क्लीन एनर्जी के लिए प्रथम स्थान मिला।

इनोवेशन अवॉर्ड
इनोवेशन आइडिया अवॉर्ड थीम में इंदौर को कार्बन क्रेडिट फाइनेंसिंग मेकेनिज्म के लिए प्रथम स्थान प्राप्त हुआ।

सिटी अवॉर्ड
राउंड वन सिटीज में इंदौर को प्रथम एवं जबलपुर को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। राउंड 3 सिटीज में सागर को द्वितीय स्थान मिला।

 

Share