जनता की सुविधा प्राथमिक या फिर राजनीति सर्वोपरि,आखिर कब खुलेगा रेलवे ओवरब्रिज?

जनता की सुविधा प्राथमिक या फिर राजनीति सर्वोपरि,आखिर कब खुलेगा रेलवे ओवरब्रिज?

फिरोजाबाद। लेबर कॉलोनी स्थित रेलवे फाटक नंबर-63 पर बने नवनिर्मित ओवरब्रिज को 7 मई की शाम तक खोलने के निर्देश उत्तर प्रदेश सरकार ने सेतु निगम फिरोजाबाद के अधिकारियों को दिए थे,लेकिन विभाग के अधिकारियों ने ब्रिज को इस दिन सुहाग नगरी वासियों के लिए शुरू ना करके शासन के आदेशों की धज्जियां उड़ा दी। सेतु निगम कई दिनों से ब्रिज को उद्घाटन के चक्कर में शुरू नहीं कर रहा हैं। फिलहाल,सेतु निगम ने लॉकडाउन का हवाला देकर पुल को खोलने की डेट कुछ दिन और बढ़ा दी हैं जबकि ओवरब्रिज कई दिनों से तैयार हैं।

उप्र.सेतु निगम फिरोजाबाद के जे.ई.जितेश वर्मा ने गत पांच मई को समय भास्कर को बताया था कि लेबर कॉलोनी ब्रिज का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। शासन से लेबर कॉलोनी ओवरब्रिज को शुरू करने के निर्देश आ गए हैं। 7 मई को ब्रिज आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा। इसके बाद पुल पर सुचारू रूप से आवागमन चालू हो जाएगा। सेतु निगम के अधिकारी इस मामले पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। विभाग के अफसर इस प्रकरण पर प्रतिक्रिया देने से बचते दिखें। पुल का उद्घाटन कुछ दिनों के बाद होने की संभावना हैं। उद्घाटन के बाद ही पुल चालू हो सकेगा। पुल को खोले ना जाने से क्षेत्रीय लोगों में गुस्सा पनप रहा हैं।

जनप्रतिनिधि अटका रहा रोड़ा
बताया जाता है कि नवनिर्मित ओवरब्रिज आम जनता के लिए फिलहाल न खोला जाए इसके पीछे एक सत्ताधारी जनप्रतिनिधि का हाथ हैं। जनप्रतिनिधि के द्वारा जनता के बीच अपनी राजनीति चमकाने और पुल का उद्घाटन कर इसे बनवाने का श्रेय लेने के चक्कर में रेलवे ओवरब्रिज को सुहागनगरी वासियों के लिए शुरू नहीं किया जा रहा हैं। सूत्र बताते हैं कि सेतु निगम के अधिकारियों पर जनप्रतिनिधि के द्वारा दबाव बनाया जा रहा है कि रेलवे ओवरब्रिज को अभी लोगों के लिए नहीं खोला जाएं।
 
Share