कंपनी बदलेगी Fair & Lovely क्रीम का नाम,1975 में भारत में हुई थी लॉन्च

नई दिल्ली। अमेरिका में एक अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद से ही पूरी दुनिया में नस्लीय मानसिकता को लेकर एक मुहिम शुरू हो गई है। जिसमें अब यूनिलिवर कंपनी अपने सौंदर्य उत्पाद ‘फेयर ऐंड लवली’ फंस गई है। ये वहीं कंपनी है जो लोगों को गोरा करने का प्रचार करती है।

अब ये कंपनी अपने प्रोडक्ट ‘फेयर ऐंड लवली’ का नाम बदलने जा रही है। इसकी जानकारी खुद यूनिलिवर कंपनी ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दी है। जिसमें कंपनी ने ट्वीट करते हुए कहा कि वह अपने प्रोडक्ट के पैकेंजिग से गोरा शब्द जैसे फेयर, व्हाइटनिंग और लाइटनिंग जैसे शब्दों को हटा देगी।

इसके साथ ही कंपनी ने ये भी कहा कि अब हम इसके विज्ञापन में हर रंग की महिलाओं को मौका देंगे। आपको बता दें कि ये क्रीम भारत (India) में सालाना 50 करोड़ डॉलर से ज्यादा का कारोबार करती है। जो कि काफी ज्यादा है। इसके साथ ही ये क्रीम बांग्लादेश, इंडोनेशिया, थाईलैंड, पाकिस्तान और एशिया के कई देशों में बिकती है।

आपको बता दें कि भारत में Hindustan Unilever ने 1975 में इस क्रीम को लॉन्च किया था। ये भारत में इतनी पसंद की गई कि देश की 50 फीसदी जनता इस क्रीम का इस्तेमाल करती है। इस कंपनी पर इससे पहले भी रंगभेद और स्टीरियोटाइप के आरोप लगते रहे हैं। एजेंसी