रेप पीड़िता के डॉक्टरी परीक्षण में दबंगों ने बाधा पहुंचाने का किया प्रयास

रेप पीड़िता के डॉक्टरी परीक्षण में दबंगों ने बाधा पहुंचाने का किया प्रयास

– पुलिस ने हस्तक्षेप कर किशोरी का कराया डॉक्टरी परीक्षण

समय भास्कर,फिरोजाबाद। थाना नारखी क्षेत्र में 2 दिन पूर्व खेत में मिर्च तोड़ने गई जिस किशोरी के साथ युवक ने दुराचार किया था पुलिस उसका डॉक्टरी परीक्षण कराने जिला अस्पताल आई थी तभी विरोध पक्ष के दबंगों ने किशोरी का मेडिकल परीक्षण कराने में बाधा पहुंचाने का भरसक प्रयास किया परंतु मौजूद पुलिस बल के सामने उनकी एक नहीं चली पुलिस ने सतर्कता बरतते हुए किशोरी का डॉक्टरी परीक्षण कराया है।

थाना नारखी क्षेत्र के एक गांव में निवास कर रहा पीड़िता का परिवार मेहनत मजदूरी कर अपना भरण-पोषण करता है। शुक्रवार को इस परिवार ने अपनी नाबालिग पुत्री को मिर्च तोड़ने और उसे पेटी में भरने के लिए भेज दिया खेत पर पहुंची किशोरी ने मिर्च तोड़कर पेटी में भरने का कार्य शुरू कर दिया। इसी मध्य पेटी खत्म हो गई मौके पर मौजूद सज्जन पाल पुत्र महिपाल ने कहा तो पेटी खत्म हो गई है। चलो मेरे साथ मोटरसाइकिल पर बैठो।  पेटी और ले आए किशोरी उसकी बातों में आ गई और मोटरसाइकिल पर बैठकर उसके साथ चल दी। परिजनों के अनुसार सज्जन पाल मेरे गांव परीक्षत पुर और थानपुर के मध्य एक सुनसान स्थान पर बाइक रोक दी और किशोरी को एक खेत में ले गया जहां उसके साथ दुराचार किया। यही नहीं युवक ने किशोरी को यह भी धमकी जी यदि तूने यह बात किसी को बताई तो वह जान से मार देगा। इसके अलावा उसने पैसों का भी प्रलोभन दिया।

किशोरी ने यह बात घर पहुंच कर अपने परिजनों को बताई। परिजन किशोरी को साथ लेकर थाने पहुंचे और घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्यवाही शुरू कर दी। इलाका पुलिस सोमवार को किशोरी को डॉक्टरी परीक्षण के लिए जिला अस्पताल लेकर आई। तभी दुराचारी के साथी भी वहां आ धमके। उन्होंने डॉक्टरी परीक्षण न कराने का भरसक प्रयास किया और तरह-तरह की धमकियां दी। किशोरी के साथ हाय पुलिसकर्मी ने इसकी जानकारी जिला अस्पताल की पुलिस चौकी को दी। तभी चौकी प्रभारी मैं पुलिस बल के पहुंच गए और कड़ी सतर्कता के बाद पीड़िता का डॉक्टर परीक्षण किया गया।

Share