टशन बाजी ने पहुंचा दिया जेल, जाने पूरा मामला

टशन बाजी ने पहुंचा दिया जेल, जाने पूरा मामला

नई दिल्ली। हथियारों से लैस होकर फिल्मी अंदाज में ताबड़-तोड़ फायरिंग करना 6 युवकों को भारी पड़ गया है। टशनबाजी के चक्कर में उन्हें अब जेल की हवा खानी पड़ी है। आरोपियों को असलहा किसने दिए थे, इसकी जांच पुलिस कर रही है। उन्हें भी जल्द दबोचा जाएगा। पुलिस गिरफ्त में आए आरोपियों से 4 पिस्टल, 2 तमंचे और भारी मात्रा में कारतूस बरामद किए गए हैं।

जनपद गाजियाबाद के कविनगर थानांतर्गत शास्त्रीनगर में राज गैस चौपला चेक पोस्ट के पास 27 सितम्बर की देर रात 2 पक्षों में भिड़ंत हो गई थी। इस दरम्यान पुलिस चेक पोस्ट के पास ताबड़-तोड़ फायरिंग किए जाने से एकाएक हड़कंप मच गया था। पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों ने एक-दूसरे को डराने और ताकत का अहसास कराने के मकसद से फायरिंग की थी। गनीमत रही कि कोई बड़ी वारदात नहीं हो पाई। पुलिस ने बताया कि इस प्रकरण में दोनों पक्ष के 6 सदस्यों को दबोच लिया गया है।

एक पक्ष से देव उर्फ दिवांश निवासी महेंद्रा एंक्लेव और विकास उर्फ विक्की निवासी ग्राम शाहपुर बम्हैटा तथा दूसरे पक्ष से नैतिक शर्मा निवासी एम ब्लॉक कविनगर, राजीव कुमार निवासी मिसलगढ़ी मसूरी, संजू निवासी गोविंदपुरम तथा अनमोल निवासी काजीपुरा मसूरी को पकड़ा गया है। एक आरोपी रोहित निवासी ग्राम रजापुर फरार है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों के कब्जे से 4 पिस्टल, 2 तमंचे व कारतूस बरामद किए गए हैं। पुलिस ने बताया कि दोनों पक्षों में कुछ समय से तनातनी चल रही थी। 15 दिन पहले विवाद होने पर समझौता भी हो गया था।

इसके बावजूद दोनों पक्ष इंस्टाग्राम पर एक-दूसरे के खिलाफ टिप्पणी कर रहे थे। कविनगर एसएचओ अब्दुल रहमान सिद्दीकी का कहना है कि फरार आरोपी रोहित की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। आरोपियों को असलहा किसने दिए, इसकी जांच करने पर कुछ नाम प्रकाश में आए हैं। उन्हें भी ढूंढ़ा जा रहा है। पुलिस का कहना है कि सिर्फ टशनबाजी में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के समक्ष शक्ति प्रदर्शन किया था।

Share