आजमगढ़ के दीवानी न्यायालय में मिला संदिग्ध बम

आजमगढ़। यूपी के आजमगढ़ जिले के दीवानी न्यायालय में शनिवार को उस समय हड़कंप मच गया जब लोगों ने एक अधिवक्ता के टेबल पर बमहोने की जानकारी दी। बम की सूचना फैलने पर कचहरी में अफरातफरी की स्थिति मच गई। सूचना के बाद भारी पुलिस बल के साथ बम स्क्वायड की टीम मौके पर पहुंची। बैग की तलाशी के दौरान बम स्क्वायड ने दिखने में संदिग्ध बम जैसी वस्तु को कब्जे में लेकर जांच के लिए भेज दिया है।

नवरात्र का पहला दिन होने के कारण न्यायालय परिसर में भीड़-भाड़ थोड़ी कम थी। इसी दौरान न्यायालय में परिसर के पुराने साइकिल स्टैंड के गेट नंबर-5 के समीप अधिवक्ता लालजीत तिवारी के टेबल पर बम की तरह दिख रही संदिग्ध वस्तु को देखकर अधिवक्ताओं के होश उड़ गए। देखते ही देखते लोगों की भारी भीड़ पहुंच गयी। अधिवक्ताओं ने इसकी सूचना पुलिस को दी। न्यायालय परिसर में बम मिलने की जानकारी के बाद आनन-फानन में एसपी सिटी के नेतृत्व में बम स्क्वायड और भारी संख्या में पुलिस बल के साथ न्यायालय परिसर में पहुंचे।

पुलिस ने सभी न्यायालय के गेटों को बंद करा दिया। बम स्क्वायड की टीम ने बम को अपने कब्जे में ले लिया। अधिवक्ताओं का कहना है कि न्यायालय परिसर में बम मिलने की सूचना पर वे देखने के लिए पहुंचे तो बम की तरह दिखने वाली वस्तु कपड़े में लिपटी हुई थी। जिसके बाद भारी संख्या में पुलिस के साथ पुलिस के अधिकारी आये और जांच पड़ताल में जुटे है। कोर्ट परिसर में फैली दहशत

अधिवक्ता का कहना है कि किसी शरारती तत्व ने न्यायालय में दहशत फैलाने के लिए ऐसा कृत्य किया है। जिससे की न्यायालय में दहशत फैलायी जा सके। इस मामले में पुलिस अधीक्षक नगर पंकज पाण्डेय ने बताया कि कचहरी परिसर के बम मिलने की सूचना पर टीम पहुंची थी छानबीन के दौरान कपड़े में लिपटी हुई रबड़ की बाल प्रतीत हो रही है। जांच की जा रही है। एजेंसी