66 के हुए भारतीय पार्श्वगायक सुरेश वाडकर

66 के हुए भारतीय पार्श्वगायक सुरेश वाडकर

पंकज दुबे / मुंबई

भारतीय सिनेमा के विख्यात गायक सुरेश वाडकर विगत 7 अगस्त को 66 साल के हो गए , अपना 66वाँ जन्मदिन उन्होंने अपने कुछ खास दोस्तों के साथ मुंबई में मनाया, जहा बॉलीवुड के कई नामचीन सितारों ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी।

हिंदी फिल्म के जाने – माने संगीतकार और गीतकार रवींद्र जैन ने राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म पहेली में उनसे पहला फिल्मी गीत ‘वृष्टि पड़े टापुर टुपुर’ गवाया था, उसके बाद उन्होंने पीछे मुड़ कर नहीं देखा, और आज भारतीय सिनेमा में वो खुद कई पार्श्वगायक के लिए प्रेरणा है ।

उन्होंने आर. डी. बर्मन और गुलजार के साथ मिलकर कुछ गैर फिल्मी गीतों के कई अलबम भी बनाए, पार्श्वगायक सुरेश वाडकर ने हिंदी और मराठी के अलावा कुछ गीत भोजपुरी और कोंकणी भाषा में भी गीत गाए हैं।

भारतीय संगीत में उनके उनके योगदान के लिए भारत सरकार ने उन्हें वर्ष २०२० में ‘पद्मश्री’ अवॉर्ड से सम्मानित किया।

रियालिटी शो इंडियन आइडल (सीजन २) से अपनी पहचान बनाने वाले, भारतीय पार्श्वगायक, संगीतकार रवि त्रिपाठी ने कहा की, मैंने श्री सुरेश वाडकर जी से बहुत कुछ सीखा है और मै उनको अपना गुरु मनाता हु , भगवान उनको हमेशा स्वस्थ रखे, जब भी मुझे अपने जरुरत थी मुझे सुरेश सर का साथ मिला।

Share