प्रदेशफिरोजाबाद

शिकोहाबाद में नकली नोट बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़,लाखों के नकली नोट,मशीन बरामद,अंतरराज्यीय गिरोह के 5 सदस्य गिरफ्तार

फ़िरोज़ाबाद। थाना शिकोहाबाद पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर बुधवार की देर रात को शिकोहाबाद की आवास विकास कॉलोनी के एक मकान में चल रही नकली नोट छापने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए अन्तर्राज्जीय गिरोह के 5 सदस्यों को हिरासत में लिया। घर में चल रही फैक्ट्री में मशीन से करोड़ों रुपए के नकली नोट छापे जा रहे थे।इन नोटों को आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों व होली के त्यौहार पर बाजारों में खपाने की योजना थी। पुलिस की छापेमारी कार्रवाई से क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। पुलिस को इस नकली नोट(फेक इंडियन करेंसी)  बनाने वाले गिरोह की भनक सोमवार को ही लग गई थी। पुलिस पूरे सिंडिकेट को पकड़ने के लिए लगातार दबिश दे रही थी। पकड़े गए गिरोह के कब्जे से 100-100 के 1,9,2000 रुपए के जाली नोट,नोट छापने की मशीन आदि सॉफिस्टिकेटेड उपकरण बरामद हुए हैं। गैंग का सरगना तजेन्द्र उर्फ काका पूर्व में तिहाड़ जेल भी जा चुका है। सन 2000 में उसने अपराध की दुनिया में कदम रखा था। पुलिस ने कोर्ट में पेश करने के बाद गुरुवार को गिरोह के सभी लोगों को जेल भेज दिया।

गुरुवार को पुलिस लाइन सभागार में मामले का खुलासा करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार पांडे ने बताया थाना शिकोहाबाद क्षेत्र में अन्तर्राज्जीय गिरोह नकली नोट बनाने वाले रैकेट का पुलिस ने बस्ट आउट किया है। जिसमें सरगना समेत कुल 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरोह का सरगना तजेन्द्र उर्फ काका पंजाब का रहने वाला है। बाद में दिल्ली आकर बस गया था। इसके खिलाफ दिल्ली में 13 मामले तथा फिरोजाबाद में 2 मामले पंजीकृत हुए है। इस रैकेट से तकरीबन सो 100-100 के तकरीबन 1,9,2000 रुपए के नकली नोट, नोट छापने की मशीन आदि 19 वस्तुएं तथा असलहा,कारतूस भी बरामद की गई हैं। दिल्ली के विभिन्न थाना क्षेत्रों वेस्टर्न दिल्ली,सेंट्रल दिल्ली,रोहिणी और शाहदरा में कई बार जेल जा चुका है। नकली नोट बनाने के मामले में है चौथी बार पुलिस की गिरफ्त में आया है। आने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों में करीब 100 करोड़ करोड़ रुपए के नकली नोटों को इस गैंग के द्वारा खपाने की योजना थी,ताकि मतदाता और मतदान को प्रभावित किया जा सके। पुलिस को इन लोगों से जानकारी मिली है कि कुछ लोग इस रैकेट को नकली नोटों का आर्डर देते थे और नोटों को खपाने का काम करते थे। इस गैंग के सदस्यों पर एनएसए और गैंगस्टर एक्ट में आगे कठोरतम कार्रवाई की जाएगी,जिससे कि यह आगे दोबारा से यह काम ना कर पाए। गिरफ्तार करने वाली शिकोहाबाद पुलिस टीम को 25000 रुपए का नकद इनाम दिया गया है। वार्ता के दौरान एसपी ग्रामीण अखिलेश नारायण सिंह,क्षेत्राधिकारी शिकोहाबाद बलदेव सिंह,प्रभारी निरीक्षक शिकोहाबाद सुनील कुमार तोमर आदि पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

यह हुए गिरफ्तार

1-तजेन्द्र उर्फ काका पुत्र हरभजन सिंह निवासी गुरुद्वारा सिंह साहब ब्लाक 9 मोतीनगर,थाना मोतीनगर नई दिल्ली।2.सन्तोष उर्फ सलीम पुत्र मैकूलाल निवासी आवगंगा ओमनगर शिकोहाबाद ।3.जितेन्द्र पुत्र रामकेश कठेरिया निवासी मैनपुरी चौराहा आवगंगा रोड ओमनगर शिकोहाबाद।4.दिलीप उर्फ छोट पुत्र पातीराम निवासी आवास विकास कॉलोनी,शिकोहाबाद ।5 .दीपक उर्फ गुड्डू पुत्र रामवीर निवासी हीरानगर,शिकोहाबाद।

यह माल हुआ बरामद  

100-100 रुपये के 1,92,000 नकली नोट,334 पेपर जिसकी एक पुस्त पर 100-100 के तीन नोट छपे,एक  लैपटॉप,लेनोवो, माउस,प्रिन्टर कैनन,पावर प्रेस मशीन ,डाई पंचिंग मशीन एक फर्मा टेबिल लकडी,दो शीशा,दो पैमाना लोहे के,दो पेपर कटर नाइफ,ग्रीन पन्नी रोल,स्टीकर शीट क्रोमो पेपर,सादा पेपर पदम जी ब्रांड,वाटर मार्का कलर केमिकल की शीशियां,कलर स्क्रीनिंग प्रिंटिंग,हीट एम्बोजिग मशीन,एक पैकेट रबड़ बैंड,एक पेपर कटर मशीन,एक तमंचा देसी 315 बोर,3  कारतूस 315 बोर बरामद हुआ।

Related Articles

Back to top button