प्रधानमंत्री मोदी जी को गालियाँ देकर बड़ा बनना चाहते है कुछ लोग: भाजपा प्रवक्ता

शैलेंद्र पांडे/ मीरा भायंदर

इलाहाबाद हाई कोर्ट में भगवान श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन पर रोक लगाने की याचिका दायर करनेवाले साकेत गोखले के काशीमीरा स्थिति घर के बाहर भाजपा कार्यकर्ताओं ने भगवान श्रीराम के नाम के नारे लगाये और याचिका को हिन्दू धर्म के खिलाफ एक तुच्छ पब्लिसिटी स्टंट बताया।

साकेत गोखले के द्वारा ट्विटर पर पुलिस और गृहमंत्री से प्रदर्शनकारियों की शिकायत करने के बाद पुलिस एवं प्रशासनिक मशीनरी एक्शन में आ गयी थी। भाजपा कार्यकर्ताओं से पूछताछ करने के लिए हिरासत में लिया गया था लेकिन सभी कार्यकर्ताओं को जमानत भी मिल गयी है।

मीरा भायंदर भाजपा प्रवक्ता रणवीर बाजपेई के साथ, विशाल पाटिल, हर्षल दवने, विशाल पाटिल और रोशन घरे पर 143 A और 188 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

भाजपा प्रवक्ता रणवीर बाजपेई ने कहा कि मीरा भायंदर में एक नया चलन शुरू हुआ है कि प्रधानमंत्री जी को गाली देकर, हिन्दू धर्म को गाली देकर, महिलाओं को गाली देकर कुछ लोग बड़ा बनना चाहते है।

साकेत गोखले ने कोविड का हवाला देकर भूमिपूजन पर रोक की मांग की थी जिसे खारिज कर दिया गया है। साकेत ने अपने ट्वीट में आर.एस. एस. का उल्लेख और भगवान श्री राम के नारे का जिक्र किया था जिसे लेकर ट्विटर पर एक अलग ही बहस छिड़ी हुई है और हमेशा की तरह विवाद दो खेमों में बटा हैं।