समरस समाज ही सबल राष्ट्र का आधार- रामलखन

समरस समाज ही सबल राष्ट्र का आधार- रामलखन

फिरोजाबाद। स्वयं सेवक संघ सदर खंड ज़िला शिकोहाबाद की समरसता गतिविधि के तत्वावधान में ग्राम फुलायची में महर्षि बाल्मीकी जयंती समरसता महोत्सव के रूप में मनाई गयी।समरसता उत्सव में मुख्य अथिथि के रूप में ज़िला संघचालक रामलखन सिंह गुर्जर उपस्थित रहे।कार्यक्रम का शुभारंभ महर्षि बाल्मीकी व भगवान श्री राम लक्ष्मण भरत व सीता के चित्रों पर दीप प्रज्वलन के साथ हुआ।मुख्य अथिथि ने महर्षि बाल्मीकी के जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला।उन्होंने कहा कि समरस समाज ही सबल राष्ट्र का आधार है।समता ओर ममता युक्त समाज खड़ा करना समय की आवश्यकता है ।

कार्यक्रम में हनुमान चालीसा एवं राम स्त्रोतम का वाचन किया गया।कार्यक्रम का प्रारम्भ अभिनव सिंह के एकल गीत के साथ हुआ।समरसता उत्सव में उपस्थित सभी स्वयंसेवकों ने महर्षि बाल्मीकी के चित्र पर पुष्प सुमन अर्पित किए।कार्यक्रम मैं शंख ध्वनि के साथ श्री राम के जयघोष किए गए।कार्यक्रम में मुख्य रूप से जीवाराम,उत्कर्ष सिंह,सियाराम,शेखर सिंह,प्रदीप सिंह,अभिनव सिंह,सूरज कुमार,हरिकेश,नमन सिंह आदि उपस्थित थे।अध्यक्षता वरिष्ठ स्वयंसेवक नवाब सिंह कुशवाह ने कीं,संचालन कार्यवाह अभिनव सिंह ने किया।

Share