ओलंपिक खेलों में नहीं खेल पायेगा रूस, 4 साल के लिए लगा प्रतिबंध

olympics russia

मॉस्को: ओलंपिक खेलों को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. खबर है कि एंटी डोपिंए एजेंसी ने रूस को ओलंपिक खेलों से चार साल के लिए बैन कर दिया है. बता दें कि अगले साल जुलाई के महीने में ओलंपिक खेल होने वाला है. ऐसे में खेल के इतने बड़े प्लेटफॉर्म से रूस को काफी बड़ा झटका लगा है।

रूस पर इस बैन का असर ये होगा कि यहां की टीम अब 2020 के टोक्यो ओलंपिक और 2022 के बीजिंग ओलंपिक में भाग नहीं ले पाएगी. इस फैसले से पहले वाडा की एक बैठक लुसाने (स्वीटजरलैंड) में हुई. बता दें कि रूस पर यह आरोप लगा था कि उसने एंटी डोपिंग लेबोरेट्री से गलत जानकारी मुहैया कराई थी।

वाडा के प्रवक्ता जेम्स फिट्जगेराल्ड ने कहा, ”सिफारिशों की पूरी सूची सर्वसम्मति से स्वीकार कर ली गयी है. वाडा कार्यकारी समिति ने सर्वसम्मति से स्वीकार किया कि रूसी डोपिंगरोधी एजेंसी ने चार साल तक नियमों का पालन नहीं किया।

वाडा के इस फैसले के बाद रूसी खिलाड़ी तोक्यो ओलंपिक में तटस्थ खिलाड़ी के तौर पर भाग ले सकते हैं लेकिन ऐसा तभी संभव होगा जब वे यह साबित करेंगे कि वे डोपिंग की उस व्यवस्था का हिस्सा नहीं थे जिसे वाडा सरकार प्रायोजित मानता है।

फिट्जगेराल्ड ने कहा, ”उन्हें यह साबित करना होगा कि वे रूसी डोपिंग कार्यक्रम का हिस्सा नहीं थे जैसा कि मैकलारेन रिपोर्ट में कहा गया है या उनके नमूनों में हेराफेरी नहीं की गयी थी.” मैकलारेन रिपोर्ट 2016 में जारी की गयी थी जिसमें रूस में विशेषकर 2011 से 2015 तक सरकार प्रायोजित डोपिंग का खुलासा किया गया था एजेंसी

more recommended stories