अफवाह: गलत खबर से मालाड की सोसाइटी में मचा हड़कंप

मुंबई। शहर के मालाड पूर्व स्थित अल्टा मोंट सोसाइटी के बारे में कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर गलत खबरें चला दीं। यहां पर एक साथ 160 से ज्यादा मरीजों के मिलने की खबर व्हाट्सऐप ग्रुप में स्प्रेड कर दिया गया था। इससे सोसाइटी के लोगों में इससे खौफ पसर गया।

शहर में कोरोना के संकट की रफ्तार कम करने के लिए सरकार और प्रशासन तेजी से कार्य कर रहा है। इसी कड़ी में मुंबई महानगर पालिका स्थानीय नागरिकों की स्क्रीनिंग कर रही है। मंगलवार को मनपा का एक दल मालाड पूर्व की उच्च भ्रू सोसायटी अल्टा मोंट में पहुंचा था। सोसाइटी में हालांकि अब तक कोरोना का एक भी मामला नहीं है लेकिन मनपा के सर्वे दल के पहुंचने की फोटो का गलत तरीके से उपयोग करते हुए कुछ शरारती तत्वों ने सोशल मीडिया पर फैला दिया कि सोसाइटी में 160 से ज्यादा मरीज पाए गए।

सोशल मीडिया पर तेजी से फैले इससे संदेश से सोसाइटी के निवासियों को उनके निकटवर्तियों के फोन आने शुरू हो गए। इससे सोसाइटी में खौफ का माहौल हो गया है। इसे लेकर सोसाइटी ने एक स्पष्टीकरण भी जारी किया है जिसमें इस पूरी घटना का खुलासा किया गया है। यहां के कुछ लोगों ने शंका जाहिर की है कि इसमें शरारती तत्वों की करतूत हो सकती है जिससे सोसाइटी के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़े और आस-पास के लोगों से संपर्क टूट जाए।

इस बारे में ट्वीट के जरिये कुछ लोगों ने सीएमओ,मुंबई मनपा और मुंबई पुलिस से भी कार्रवाई की गुहार लगाई है। इस मुद्दे पर सोसाइटी ने पुलिस थाने में पत्र देकर शरारती लोगों का पता लगाकर कार्रवाई की मांग की है जिससे फिर किसी सोसाइटी के साथ ऐसी घटनाएं न हो पाएं।