एम्स में इंफोसिस फाउंडेशन विश्राम सदन का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी

एम्स में इंफोसिस फाउंडेशन विश्राम सदन का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली।पीएम मोदी गुरुवार 21 अक्टूबर को नई दिल्ली अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स)  के झज्जर परिसर में स्थित राष्ट्रीय कैंसर संस्थान (एनसीआई) में इंफोसिस फाउंडेशन विश्राम सदन का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने बुधवार को बताया कि प्रधानमंत्री 21 अक्टूबर को सुबह 10:30 बजे एम्स नई दिल्ली के झज्जर परिसर में राष्ट्रीय कैंसर संस्थान (एनसीआई) में इंफोसिस फाउंडेशन विश्राम सदन का उद्घाटन करेंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री कार्यक्रम को संबोधित भी करेंगे। इस अवसर पर पीएम मोदी के साथ केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और इंफोसिस फाउंडेशन की अध्यक्षा सुधा मूर्ति भी मौजूद रहेंगी।

जानकारी के लिए बता दें कि इंफोसिस फाउंडेशन ने 806 बिस्तरों वाले विश्राम सदन का निर्माण कैंसर रोगियों के साथ आने वाले परिजनों को वातानुकूलित आवास सुविधा मुहैया कराने के लिए किया है। इसके आरंभ होने से ऐसे लोगों को सुविधा होगी, जिन्हें अक्सर लंबी अवधि के लिए अस्पतालों में रहना पड़ता है। इसका निर्माण फाउंडेशन द्वारा लगभग 93 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। यह एनसीआई के अस्पताल और ओपीडी ब्लॉक के करीब स्थित है।

इससे पूर्व पीएम मोदी ने आज कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कुशीनगर हवाई अड्डा दशकों की आशाओं और अपेक्षाओं का परिणाम है। आज यहां मुझे दोहरी खुशी हो रही है। आध्यात्मिक यात्रा के जिज्ञासु के रूप में मन में संतोष के भाव हैं तो पूर्वांचल क्षेत्र के प्रतिनिधि के रूप में यह कमिटमेंट पूरा होने की घड़ी है।

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लोकार्पण समारोह में केंद्रीय नागरिक विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 26 नवम्बर से दिल्ली-कुशीनगर के लिए सीधी उड़ान सेवा की घोषणा की। उन्होंने बताया कि उड़ान की सेवा हफ्ते में चार दिन मिलेगी। इसके साथ ही 18 दिसम्बर से मुंबई के लिए भी यहां से उड़ान शुरू हो जाएगी। कोलकाता के लिए भी सीधी फ्लाइट होगी। इस तरह कुशीनगर देश की राजनीतिक और आर्थिक राजधानी से सीधे जुड़ जाएगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि महज दो वर्ष में 260 करोड़ रुपये की लागत से करीब छह सौ एकड़ में बना यह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा कीर्तिमान स्थापित कर रहा है।

Share