तिहाड़ जेल में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट

 तिहाड़ जेल में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट

दिल्ली। देश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। ऐसे में राजधानी दिल्ली में भी कई ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। लेकिन अब दिल्ली की तिहाड़ जेल पहली ऐसी जेल बनने जा रही है,जिसमें ऑक्सीजन प्लांट लगेगा। ऑक्सीजन प्लांट लगाने का काम जल्द शुरू होने जा रहा है। इस महीने के अंत तक यह ऑक्सीजन प्लांट शुरू हो जाएगा।

कैदियों के लिए इस्तेमाल होगी ऑक्सीजन

दरअसल,यहां उत्पादित होने वाली ऑक्सीजन कैदियों के लिए इस्तेमाल की जाएगी। अभी जेल में ऑक्सीजन के सिलेंडर कैदियों के लिए उपलब्ध रहते हैं। जेल प्रशासन के अनुसार, देशभर में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना जताई जा रही है। दूसरी लहर में देशभर में सबसे बड़ी समस्या ऑक्सीजन की कमी थी। इसलिए तीसरी लहर से पहले ऑक्सीजन का इंतजाम करने पर जोर दिया जा रहा है।

महीने के आखिरी में बन कर हो जाएगा तैयार

तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल ने बताया कि विभिन्न अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। ऐसे में दिल्ली की तिहाड़ जेल भी ऑक्सीजन का बंदोबस्त करने के लिए जेल परिसर में ऑक्सीजन प्लांट लगाने जा रही है। इस माह के अंत तक यह ऑक्सीजन प्लांट बनकर तैयार हो जाएगा। यह प्लांट जेल नंबर तीन में लगाया जाएगा।

तिहाड़ जेल में 100 बेड का अस्पताल भी है

तिहाड़ प्रशासन के अनुसार, ऑक्सीजन प्लांट लगने से जेल के कैदियों को आवश्यकता पड़ने पर ऑक्सीजन मुहैया कराना आसान होगा,अभी ऑक्सीजन के सिलेंडर जेल में उपलब्ध रहते हैं,लेकिन कोरोना की दूसरी लहर में जिस तरह से ऑक्सीजन की किल्लत हुई,उसे ध्यान में रखते हुए यह तैयारी की जा रही है। तिहाड़ जेल संख्या 3 में 100 बेड का अस्पताल है जहां मरीजों को इस प्लांट से ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा सकेगी। इस प्रोजेक्ट को दिल्ली सरकार से मंजूरी मिल चुकी है।

Share