अब गुजरात में बनेंगे हेलीकॉप्टर और छोटे विमान 

अब गुजरात में बनेंगे हेलीकॉप्टर और छोटे विमान 

गुजरात। देश में पहली बार गुजरात में छोटे विमानों और हेलीकॉप्टरों का उत्पादन शुरू किया जाएगा। राज्य के नागरिक उड्डयन विभाग ने निजी कंपनी एयरो फ्रेयर इंक के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। कंपनी ने अमरेली एयर स्ट्रिप के पास एक निर्माण इकाई शुरू करने का काम शुरू कर दिया है।

निजी कंपनी एयरो फ्रेयर इंक के साथ समझौता
यह इकाई अक्टूबर तक चालू होने की उम्मीद है। कंपनी का पहला विमान साल 2021 के अंत तक बाजार में आ सकता है। इसके लिए कंपनी पहले चरण में 150 करोड़ रुपए और उसके बाद में 500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी।

इस साल के अंत तक आएगा पहला विमान

निजी कंपनी एयरो फ्रेयर इंक के सीईओ अभिमन्यु देथा ने बताया कि उनकी कंपनी ने राज्य सरकार के नागरिक उड्डयन विभाग के साथ एक समझौता पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके तहत कंपनी अमरेली में एक विमान निर्माण संयंत्र शुरू करेगी। देथा ने कहा कि 2-सीटर,4-सीटर,एयर एंबुलेंस,हेलीकॉप्टर और फिक्स्ड विंग ग्लाइडर का उत्पादन शुरू किया जाएगा।

इन देशों की तकनीक का होगा इस्तेमाल

आगे जोड़ते हुए अभिमन्यु देथा ने कहा,कंपनी इन सभी विमानों के निर्माण के लिए सर्बिया,इटली,जर्मनी,स्लोवेनिया और अमेरिकी तकनीक का इस्तेमाल करेगी। इसके अलावा कंपनी तीन अन्य विदेशी कंपनियों के अनुबंध के आधार पर हल्के विमान और फिक्स्ड विंग ग्लाइडर का भी निर्माण करेगी। उन्होंने कहा कि फिलहाल कंपनी के निर्मित सभी विमानों का परीक्षण अमरेली हवाई पट्टी पर किया जाएगा।

रोजगार के मिलेंगे अवसर

अमरेली में कंपनी की स्थापित होने वाली उत्पादन इकाई के शुरू होने से इंजीनियरों और अन्य विशेषज्ञों के साथ-साथ अन्य तकनीशियनों सहित 200 से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा,जबकि अप्रत्यक्ष रूप से अमरेली और उसके आसपास के करीब एक हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा।

 

Share