महानगर पालिका की लापरवाही से नित्यानंद आश्रम कोरोना के चपेट में ?

लावारिस इंसान की रिपोर्ट को निगेटिव के बाद पॉजिटिव बताया

मीरा भायंदर(पंकज दुबे)। मीरा भायंदर महानगर पालिका के डॉक्टर की लापरवाही से मीरा रोड पूर्व के नित्यानंद आश्रम में कोरोना का ख़तरा बढ़ गया हैं। एक लावारिस व्यक्ति को अस्पताल की तरफ से नेगेटिव रिपोर्ट देने के बाद आश्रम में सराय दी गई थी। लेकिन तीन दिनों के बाद उसी व्यक्ति की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद आश्रम में खलबली मच गयी।

किशन बाबूराव जाधव नामक व्यक्ति को बुखार और सिरदर्द की शिकायत के पश्चात आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता रफीक खान ने प्रशाशन से इजाजत लेकर उसे कोविड सेंटर में भर्ती करा दिया था।

कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट के पश्चात उसे नित्यानंद आश्रम भेज दिया गया लेकिन उसी व्यक्ति की तीन दिन के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आने से मनपा की लापरवाही उजागर हो गयी।

आम आदमी पार्टी के मीडिया प्रभारी राजेश शर्मा से बात की उन्होंने कहा ऐसी लापरवाही अगर खुद महानगर पालिका से हो रही है तो करोना से हम कैसे निजात पाएँगे।नित्यानंद आश्रम में रहनेवाले में एक डर का माहौल है। आम आदमी पार्टी ने इसमें जाँच और दोषियों पर कारवाई की माँग की है।