मातृ वंदना सप्ताह : हर केंद्र पर बनेगा आकर्षक सेल्फी कार्नर

मातृ वंदना सप्ताह : हर केंद्र पर बनेगा आकर्षक सेल्फी कार्नर

-मां-बच्चे और गर्भवती के लिए सेल्फी कार्नर को बनाए जाने की तैयारी
-सेल्फी को सोशल मीडिया व राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर अपलोड किया जाएगा
-चयनित फोटो को राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले पुरस्कार वितरण समारोह में प्रदर्शित करेंगे

समय भास्कर,आगरा।प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत मातृ वंदना सप्ताह का आगाज बुधवार से होगा। यह सात सितम्बर तक चलेगा। सप्ताह के अंतर्गत प्रत्येक ब्लाक पर आकर्षक सेल्फी कार्नर बनाया जाएगा।  मां-बच्चे एवं गर्भवती के लिए सेल्फी कार्नर बनेंगे। मां एवं प्रथम शिशु अथवा गर्भवती की सेल्फी सोशल मीडिया जैसे-ट्विटर व व्हाट्सएप पर जिले,राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर अपलोड की जाएगी। ताकि चयनित फोटो को राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाले पुरस्कार वितरण समारोह में प्रदर्शित किया जा सके।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि एक सितम्बर को मातृ वंदना सप्ताह कार्यक्रम का शुभारंभ जनप्रतिनिधियों के माध्यम से कराया जाएगा। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य एवं महिला व बाल कल्याण विभ्ज्ञाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर लीगई। मातृ शक्ति राष्ट्र शक्ति थीम पर माँ व प्रथम शिशु या गर्भवती महिला की सेल्फी सोशल मीडिया पर अपलोड की जाएगी। चयनित फोटो राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में प्रदर्शित किया जाएगा। प्रत्येक ब्लाक पर मां और बच्चे व गर्भवती मां की सेल्फी के लिए सेल्फी कार्नर बनाए जा रहे हैं। गर्भवती महिला व धात्री माता को सामुदायिक सहयोग सुनिश्चित करने के लिए पंचायत स्तर पर हस्ताक्षर अभियान भी चलेगा।

नोडल अधिकारी डॉ.संजीव वर्मन ने बताया कि पहली बार गर्भवती/धात्री महिलाओं के बेहतर स्वास्थ्य देखभाल और पोषण के लिए पूरे देश में चलायी जा रही प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना को गति प्रदान के लिए प्रदेश में एक से सात सितम्बर तक मातृ वंदना सप्ताह मनाया जाएगा।   जिला कार्यक्रम समन्वयक सन्नू सूर्यवंशी ने बताया कि इस सप्ताह को एक उत्सव के रूप में मनाने की तैयारी है। जिसके तहत सप्ताह के हर दिन अलग-अलग गतिविधियां आयोजित की जाएगी। हर साल मनाये जाने वाले इस सप्ताह की इस बार की थीम ‘मातृ शक्ति-राष्ट्र शक्ति’ निर्धारित की गई है। इस बार इस सप्ताह के दौरान गर्भवती को कोविड टीकाकरण के प्रति विशेष तौर पर जागरूक करने की भी योजना है।

Share