मुरादाबाद: फर्जी दस्तावेज से रोहिंग्या मुसलमानों के वोटर कार्ड बनाने वाले BLO को किया गया सस्पेंड

मुरादाबाद: फर्जी दस्तावेज से रोहिंग्या मुसलमानों के वोटर कार्ड बनाने वाले BLO को किया गया सस्पेंड

मुरादाबाद। मुरादाबाद के भगतपुर टांडा ब्लाक में रुस्तमपुर गांव में 16 वोट नए जोड़ दिए गए हैं। इन वोटों को जोड़ने के लिए वहां एक अध्यापक को निलंबित कर दिया गया है। क्योंकि उसने यह काम रिश्वत लेकर किया था। इस काम में उसके साथ गांव प्रधान भी शामिल था। उसने इन लोगों के फर्जी कागज बनाए थे। मामला जब सामने आया जब कुछ स्थानीय लोगों ने इसकी जांच एसडीएम से कराई और मामले में सच निकलकर सामने आया।

बता दें इस मामले पर बीएसए योगेंद्र सिंह ने बताया कि मुख्य विकास अधिकारी विकास अधिकारी के मुताबिक नाजिर और पीरबख्स निवासी रुस्तमपुर ने शिकायत की गई थी। जिसके आधार पर भी यह कार्यवाही की गई। बता दें 29 जनवरी को यह शिकायत की गई थी और 1 फरवरी को जिलाधिकारी ने इस पर एक्शन लिया था। शिकायतकर्ता ने यह भी आरोप लगाया था कि प्रधान ने यह सब अपने वोट बढ़ाने के लिए किया था। उसने 16 लोगों के फर्जी कागज बनाए थे।

एसडीएम से कराई जांच
बता दें मुरादाबाद विधानसभा क्षेत्र में पड़ने वाले रुस्तमपुर तिगरी की तहसील स्टॉफ से एसडीएम ने जांच कराई थी। वह कहते हैं कि रुस्तमपुर तिगरी की भाग संख्या 105 पर सोलह नए आवेदन प्राप्त हुए हैं। बीएलओ ने भी ने वोटों को बनाने योग्य बताया था। जिसके बाद वोटों की संख्या को 794 से बढ़ा कर 809 कर दिया गया था। उक्त बढ़ाए गए वोटों के आधार पर बीएलओ को ड्यूटी में लापरवाही बरतना और निर्देशों का पालन नहीं करना पाया गया है। एजेंसी

Share