मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत महिलाओं को अधिकारों के प्रति जागरूक किया

मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत महिलाओं को अधिकारों के प्रति जागरूक किया

फिरोजाबाद। सचिव सिविल जज(सी.डि.)जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीमा कुमारी ने बताया कि अध्यक्ष जिला जज,जिला विधिक सेवा प्राधिकरण संजीव फौजदार के निर्देशानुसार मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत महिलाओं के सशक्तिकरण एवं अधिकारों के प्रति जागरूकता हेतु फिरोजाबाद स्कूल ऑफ नर्सिंग रसीदपुर कनेटा में शनिवार को विधिक साक्षरता जागरूकता का शिविर आयोजन किया गया। जिसमें महिला कल्याण अधिकारी अनम द्वारा बालिकाओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आप हमारे देश का भविष्य हैं। आप को भी इस देश में बराबर का अधिकार हैं। स्वावलम्बी बने,आप सभी कार्य कर सकते हैं। महिला कल्याण विभाग की आवश्यकता इसलिए पड़ी हैं कि हमको समाज में कमजोर समझा गया हैं। जबकि हम सब प्रकार से समृद्ध हैं। सृष्टि का पूरा भार हैं,बच्चों का निर्माण करने में भी महिलाओं का सहयोग हैं। बच्चों की पहली गुरु मां होती हैं,वह सबका पेट भर के बचा हुआ खुद ग्रहण करती हैं,इसलिए वह पुरुष की अपेक्षा कमजोर रहती हैं।

मिशन शक्ति के अंतर्गत मुख्यमंत्री ने नारी सुरक्षा,सम्मान,स्वावलम्बन कार्यक्रम चलाया हैं।हम सशक्त बने तो कोई गलत चीज हावी नहीं होगी। आप में अत्याचार से लडऩे का जुनून होना चाहिए। आप सभी से आग्रह है कि ताइक्वांडो अवश्य सीखे,भीषण मुसीबत के समय चिल्लाए तथा कुदरत के दिए गए हथियार दांत व नाखूनों का प्रयोग करें। नाख व प्राइवेट पार्ट पर पंच व सिर से वार करें तथा भागे। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.नीता कुलश्रेष्ठ द्वारा महिला सशक्तिकरण शिविर में बालिकाओं का आह्वान किया कि वह मन लगाकर पढ़ें,समाज में नाम रोशन करें। उन्होंने यह भी अवगत कराया की जनसंख्या वृद्धि हमारे देश के उत्थान में सबसे बड़ी कमजोरी हैं।महिला नसबंदी कराने पर शासन द्वारा 30 हजार रूपये का प्रावधान हैं। महिलाओं को प्रसव के समय 108 नंबर पर कॉल करके प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तक लाने ले जाने हेतु निशुल्क वाहन की व्यवस्था हैं। प्रसव होने पर ग्रामीण क्षेत्र के निवासी को 1400 रूपये व शहरी क्षेत्र के निवासी को 1000 रूपये देने का प्रावधान हैं। इसके अलावा भी आहार हेतु अनुदान दिया जाता हैं। प्रधानमंत्री मातृत्व योजना के अंतर्गत पहले बच्चे पर सरकार द्वारा 5000 रूपये दिए जाते हैं। उन्होंने सुमंगला योजना के बारे में भी विस्तार से बताया। उक्त कार्यक्रम का संचालन डॉ.सुरेश चंद्र दक्ष ने किया। इस अवसर सीएमएस महिला डॉ.साधना राठौर व डॉ.गरिमा ब्लड बैंक प्रभारी आदि उपस्थित रहीं।

Share