उत्तर भारतीयों के लिए चंदन जैसी है महाराष्ट्र की मिट्टी: कृपाशंकर सिंह

उत्तर भारतीयों के लिए चंदन जैसी है महाराष्ट्र की मिट्टी: कृपाशंकर सिंह

‘परिश्रम’ के जरिये साध रहे हिंदी भाषियों से संबंध
शैलेंद्र पांडे/ समय भास्कर
‘परिश्रम’ अभियान के ज़रिए महराष्ट्र राज्य के पूर्व गृह मंत्री कृपाशंकर उत्तर भारतीयों से संपर्क साधने का प्रयास कर रहे है और इस अभियान को खास करके उत्तर भारतीयों का अच्छा खासा प्रतिसाद मिल रहा है।
मीरा रोड के राहुल इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कृपाशंकर सिंह ने कहा कि अब वो स्वंतंत्र है और किसी न किसी जरिये वो यथासंभव उत्तर भारतीयों की मदद करना चाहते है। अगर कोई भी उत्तर भारतीय उनसे मिलने के लिए आए तो वो नाराज होकर ना लौटे।
कयास ये भी लगाए जा रहे है कि इस अभियान के ज़रिए कृपाशंकर सिंह एक राजनीतिक ज़मीन बनाने का प्रयास कर रहे है।
कार्यक्रम के दौरान मंच पर राहुल ग्रुप के चेयरमैन लल्लन तिवारी, भाजपा नेता अखिलेश चौबे, राज रियल्टी के प्रमुख राजेश सिंह, मीरा भायंदर वर्ताहार संघ के अध्यक्ष राजदेव तिवारी, शिवसेना नेता विक्रम प्रताप सिंह एक साथ नज़र आये। कार्यक्रम का संचालन अधिवक्ता राजकुमार मिश्रा कर रहे थे।
Share