देश

महाराष्ट्र: दरगाह में 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म करने वाला अकरम पठान गिरफ्तार

मुंबई। महाराष्ट्र के लातूर में पिछले हफ्ते 7 साल की मासूम बच्ची से कथित तौर पर दुष्कर्म करने के मामले में एक मुस्लिम शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने रविवार (11 अप्रैल 2021) को इसकी जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि 6 अप्रैल को अकरम पठान (26 साल) नाम के एक मुस्लिम शख्स ने निलांगा तहसील के शेडोल में स्थित एक दरगाह में इस शर्मनाक घटना को अंजाम दिया।

महाराष्ट्र के लातूर के निलांगा पुलिस थाने के अधिकारी के मुताबिक, आरोपित अकरम पठान को 7 साल की मासूम बच्ची से कथित तौर पर दुष्कर्म करने के आरोप में औसा के एरंडी सरोला गाँव से गिरफ्तार कर लिया गया है।

गौरतलब है कि इस वीभत्सघटना पहली नहीं है, इससे पहले भी रेप और गैंगरेप के कई मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मासूम बच्चियों के साथ दरिंदगी की सारी हदें पार की हैं। हाल ही में (9 अप्रैल) राजस्थान के भिवाड़ी में एक मौलवी पर नाबालिग से रेप का आरोप लगा था। रिपोर्ट्स के मुताबिक भिवाड़ी के एक गाँव की मस्जिद के मौलवी ने 14 साल की नाबालिग लड़की के साथ पहले रेप किया और फिर उसे कुएँ में धकेल फरार हो गया था। इस घटना के 7 दिन बाद पीड़ित बालिका के परिवार ने थाने में शिकायत दर्ज कराकर कार्रवाई की गुहार लगाई थी।

जानकारी के मुताबिक, भिवाड़ी सीओ हरिराम कुमावत ने बताया था कि गाँव के ही एक व्यक्ति ने मौलवी जफरु के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। वह मूल रूप से हरियाणा के पुन्हाना इलाके के बिसरु गाँव का रहने वाला था। अलवर में वह परिवार सहित रहता था। शिकायत में कहा गया था कि अप्रैल 1, 2021 की रात मौलवी उसकी 14 साल की बेटी को घर से मस्जिद में ले गया और उसके साथ रेप किया था।

इसके अलावा एक दूसरी घटना में छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक मदरसे में पढ़ाने वाले 25 साल के मौलवी को 9 साल की बच्ची के साथ बलात्कार करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। खबरों के मुताबिक यह घटना 9 अगस्त 2020 की है।

पुलिस अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक आरोपित का नाम मौलाना अरशद रहमानी बताया गया था। रायपुर शहर के खमारडीह थाना क्षेत्र में शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने अरशद रहमानी को गिरफ्तार कर लिया था।

पुलिस ने बताया कि आरोपित मौलाना रहमानी पंडरी क्षेत्र के मदरसे में शिक्षक था। वह बच्ची और उसकी बहन को अरबी पढ़ाने के लिए उनके घर पर जाता था। आरोपित मौलाना पिछले 15 दिनों से अरबी पढ़ाने बच्ची के घर जा रहा था। 9 अगस्त के दिन उसने बच्ची को अकेला देखकर उसके साथ बलात्कार किया था।

 

Related Articles

Back to top button