मध्य प्रदेश: एक दिन में 17 लाख लोगों का टीकाकरण कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

मध्य प्रदेश: एक दिन में 17 लाख लोगों का टीकाकरण कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

 मध्य प्रदेश। इस संसार में बिना मेहनत के कुछ भी प्राप्त नहीं हो सकता। तभी तो कहावत भी बनी है कि मेहनत का फल सदैव मीठा होता है। जी हां,मेहनत ही एक मात्र ऐसा हथियार है,जिसकी सहायता से मनुष्य आलस्य रूपी दुश्मन को मार कर अपनी सफलता का मार्ग आसान बना सकता है। ऐसा ही एक मेहनत रूपी फल इन दिनों मध्य प्रदेश की झोली में आ गिरा है। इसके लिए अचानक मध्य प्रदेश खासा चर्चा में भी आ गया है।

कुछ इस तरह सुर्खियों में छाया है मध्य प्रदेश

दरअसल हुआ यूं कि मध्य प्रदेश ने कोविड-19 के टीकाकरण के महाअभियान में एक दिन में 16 लाख 91 हजार 967 लोगों को वैक्सीन डोज लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया। अब यह कारनामा वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड ने वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल कर लिया है। यह जानकारी वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को लिखे पुष्टि पत्र द्वारा साझा की है। इसके साथ ही वैक्सीनेशन कार्य में उत्‍साहित मध्य प्रदेश में रिकॉर्ड वैक्सीनेशन होने के दूसरे दिन भी ग्यारह लाख से अधिक लोगों ने उत्साह के साथ वैक्सीन का डोज लगवाया है।

वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड ने जाहिर की अपनी प्रसन्नता

वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड,भारत के प्रेसिडेंट संतोष शुक्ला ने मुख्यमंत्री चौहान को भेजे पुष्टि पत्र में कहा कि मध्यप्रदेश द्वारा टीकाकरण में बनाए गए रिकॉर्ड को रिकॉर्ड बुक में शामिल करने पर संस्था को प्रसन्नता है। पुष्टि पत्र में वर्ल्ड रिकॉर्ड संबंधी प्रमाण-पत्र से सम्मानित करने के लिये मुख्यमंत्री चौहान की सहमति और दिनांक आदि भेजने के लिये भी अनुरोध किया है। पत्र में मुख्यमंत्री चौहान द्वारा कोविड-19 के टीकाकरण संबंधी कदमों की सराहना करते हुए उन्हें शुभकामनाएं भी दी हैं।

मध्य प्रदेश में वैक्सीनेशन सरकार का नहीं जनता का अभियान बना

इस संबंध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कहते हैं कि वैक्सीनेशन केवल सरकार का ही नहीं जनता का भी अभियान है। केवल राजनीतिक दल नहीं इस अभियान में पूरी जनता जुटी थी। सामाजिक कार्यकर्ता,स्वयं सेवी संस्थाएं और विशेषज्ञ सब इस अभियान में जुटे थे। सब ने मिलकर इसे सफल बनाया है। जनता के हित में इस तरह के कार्यक्रम जनता के सहयोग से ही सफल हुए।

रिकॉर्ड के दूसरे दिन भी लगे प्रदेश में 11 लाख से अधिक टीके

इसके साथ ही मुख्‍यमंत्री शिवराज ने बताया कि वैक्सीनेशन महाअभियान के दूसरे दिन भी प्रदेश में रिकॉर्ड वैक्सीनेशन हुआ है। ग्यारह लाख से अधिक लोगों ने उत्साह के साथ वैक्सीन का डोज लगवाया है। यह जनता की भागीदारी एवं कोरोना के प्रति उनके दृढ़ संकल्प को दर्शाता है। गुरुवार यानी कि आज के लिए हमारे पास लगभग 8 लाख वैक्सीन डोज उपलब्ध हैं। कोरोना के वैक्सीनेशन के महत्व को देखते हुए कोविड 19 के साथ वैक्सीनेशन की समीक्षा भी प्रतिदिन की जाएगी। सीहोर एवं राजगढ़ जिलों में वैक्सीन के अतिरिक्त डोज भी उपलब्ध कराए गए हैं। चौहान कहते हैं कि पॉजिटिव प्रकरणों की जिलेवार समीक्षा की जा रही है । माइक्रो कन्टेन्मेंट जोन बनाकर मरीजों को आइसोलेट करने का काम यहां निरंतर जारी है । जिन जिलों में एक भी कोरोना केस है,वहाँ भी पूरी तत्परता और गंभीरता के साथ मरीज का इलाज किया जा रहा है ।

Share