मध्य प्रदेश उपचुनाव: कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। भोपाल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने घोषणा पत्र जारी करते हुए प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर भी हमला बोला। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों के लिए उपचुनाव हो रहा है, जिनमें से 21 सीटें कांग्रेस विधायकों के इस्तीफा देने के कारण खाली हुईं थी। विधानसभा की 28 सीटों पर आने वाली 3 नवंबर को वोट डाले जाएंगे और 10 नवंबर को मतगणना होगी।

15 महीने की सरकार में हमने 574 वचन पूरे किए’ इस दौरान पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा, ‘2018 के विधानसभा चुनाव में हम लोगों ने एक वचन पत्र बनाया था, जिसमें हमारी तरफ से 974 वचन दिए गए थे। प्रदेश के अंदर 15 महीने कांग्रेस की सरकार रही और हम लोगों ने अपने 574 वचन पूरे किए। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भारतीय जनता पार्टी कितने भी झूठ बोलें, लेकिन जनता इसकी गवाह कि हम कैसे अपने वचन पूरे किए हैं। इस दौरान 100 रुपए में बिजली दी और किसानों का कर्ज माफ किया। जिस भाजपा सरकार को 15 साल झेलने के बाद जनता ने घर बिठाया, सौदेबाजी के जरिए जनता को धोखा देकर उन्होंने फिर से सरकार बना ली। तो मध्य प्रदेश की जनता सब देख रही है।’

उपचुनाव के लिए कमलनाथ ने किए ये वादे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, ‘मध्य प्रदेश में 28 सीटों के लिए जो उपचुनाव होना है, उसके लिए हमने 52 नए वचन इस ‘वचन पत्र’ में शामिल किए हैं। इनमें वचन है कि जिन लोगों की मौत कोरोना वायरस के कारण हुई है, उनके परिजनों को पेंशन दी जाएगी। गो-वर्धन सेवा को फिर से शुरू किया जाएगा। किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा। किसानों को बिना ब्याज कर्ज दिया जाएगा। मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राज्य के भविष्य का जो नक्शा बिगाड़ा है, उसे ठीक करने के लिए हम ये वचन पत्र लेकर आए हैं।’ एजेंसी