Home India केरल में मजदूर पर किस्मत रातों -रात हुई मेहरबान बना करोड़पति

केरल में मजदूर पर किस्मत रातों -रात हुई मेहरबान बना करोड़पति

0
23

नई दिल्ली– केरल की सरकार ने क्रिसमस नए साल के दौरान बंपर लॉटरी के ड्रा की घोषणा की थी. इसके एक दिन बाद प्रथम पुरस्कार के विजेता जिसे 12 करोड़ से अधिक की लॉटरी लगी है उस व्यक्त की पहचान हो गई है. द हिंदु की रिपोर्ट के अनुसार, इस व्यक्ति का नाम पेरून्नन राजन हैं जो एक मजदूर है. पेरून्नन राजन कन्नूर में मलुर ग्राम पंचायत में पुरीमाला का निवासी हैं और उनकी उम्र 52 वर्ष है. सोमवार 10 फरवरी को ड्रा का आयोजन हुआ था लेकिन अधिकारियों ने पुष्टि की कि टिकट पायना लॉटरी द्वारा बेचा गया था जिसके कारण विजेता का पता नहीं लग पाया. बता दें, राजन को सभी टैक्स काटने के बाद 7.2 करोड़ रुपए मिलेंगे.

खबर की मानें तो, राजन जो जब पता चला को उनकी लॉटरी लगी हैं तो वो थोलांबरा को-ऑपरेटिव बैंक गए और पुरस्कार विजेता टिकट बैंक प्रबंधक को सौंप दिया. इसके बाद अधिकारियों ने उन्हें कन्नूर के जिला बैंक जाने के लिए कहा. इसके बाद वह अपनी पत्नी रजनी, बेटे रिगिल और बेटी अक्षरा के साथ बैंक पहुंचे और टिकट जमा किया.

लॉटरी लगने पर पेरून्नन राजन ने कहा,’मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरी भी लॉटरी लगेगी. घोषणा के बाद वह अपनी लॉटरी की टिकट लेकर आगे की प्रक्रिया के लिए थोलांबरा को-ऑपरेटिव बैंक गए. यहां अधिकारियों ने उन्हें कन्नूर के जिला बैंक जाने के लिए कहा. इसके बाद वह अपनी पत्नी रजनी, बेटे रिगिल और बेटी अक्षरा के साथ बैंक पहुंचे और टिकट जमा किया.’

राजन ने आगे बताया कि उसकी किस्मत उस पर तब मेहरबान हुई जब उसे पैसों की सबसे ज्यादा जरूरत थी. उन्होंने आगे कहा,’वह अपनी बेटी की शादी और अन्य उद्देश्यों के लिए पैसे उधार लेने के बाद कर्ज में था.

राजन ने आगे बताया कि वो बैंक गए थे ऋण के लिए और इसी दौरान उन्होंने लॉटरी लेने का भी फैसला सिया. राजन जिनकी दो बेटियां और एक बेटा है वो इन पैसों से अपने 7 लाख के ऋण का भुगतान करना चाहते हैं और एक नया घर बनाना चाहते हैं. उन्होंने कग,’मैं ऋण का भुगतान करना चाहता हूं और एक नया घर बनाना चाहता हूं. मेरे घर की छत क्षतिग्रस्त है और बारिश के दौरान पानी रिसता है. मैं इस पैसे का उपयोग यहां एक उचित घर बनाने के लिए करूंगा. एजेंसी