लखनऊ में लग सकता है लॉकडाउन!

लखनऊ में लग सकता है लॉकडाउन!

उत्तर प्रदेश। कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी दर्ज की गई है। ऐसे में राजधानी लखनऊ में संक्रमण तेजी से फैल रहा है। अस्पतालों में जहां मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है वहीं दूसरी तरफ अस्पतालों के बाहर लंबी कतारें भी देखने को मिल रही है. इस बीच यूपी के लॉ मंत्री बृजेश पाठक ने एक चिट्ठी सामने आई है। इस खत के मुताबिक अगर राजधानी में महामारी और खराब व्यवस्था पर नजर नहीं रखी गई तो लखनऊ में लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है।

बता दें कि लॉ मंत्री बृजेश पाठक ने खत में लिखा है कि निजी अस्पतालों में कोरोना की टेस्टिंग बंद कर दी गई है जोकि गलत है। इस वक्त राजधानी लखनऊ नमें 17 हजार कोरोना जांच किटों की आवश्यकता है. अपने खत में मंत्री ने कोरोना मरीजों के लिए जांच की व्यवस्था और अस्पतालों में बेड्स की संख्या बढ़ाने की सिफारिश की है।साथ ही निजी अस्पतालों में कोरोना के निजी अस्पतालों को कोरोना जांच का पुन: अधिकार दिया जाए।

अपने खत में उन्होंने लिखा कि पहले की ही भांति दोबारा से RTPCR की रैंडम टेस्टिंग कराई जाए. साथ ही 24 घंटे भीतर ही कोरोना की रिपोर्ट उपलब्ध कराई जाए।राजधानी में ICU, Beds इत्यादि की संख्या बढ़ाई जाए, तथा गंभीर रोगियों को तुरंद भर्ती करने की सुविधा प्रदान की जाए। एजेंसी

Share