सचिन-गावस्कर की बराबरी कर कोहली ने बनाये नए रिकॉर्ड

सचिन-गावस्कर की बराबरी कर कोहली ने बनाये नए रिकॉर्ड

नई दिल्ली। न्यूजीलैंड के खिलाफ चल रहे विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एक अनूठा कारनामा कर दिखाया है। उन्होंने नंबर-4 पर खेलते हुए सुनील गावस्कर जैसे महान बल्लेबाज के रिकॉर्ड की बराबरी की है। इसके अलावा वह दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड के करीब भी पहुंच गए हैं। कोहली टेस्ट क्रिकेट में नंबर-4 पर बल्लेबाजी करते हुए भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे स्थान पर आ गए हैं। उनसे आगे इस सूची में सिर्फ सचिन तेंदुलकर हैं। जानकारी के लिए बता दें कि सचिन ने भारत के लिए टेस्ट में नंबर-4 पर खेलते हुए 13,492 रन बनाए,वहीं दूसरे स्थान पर पहुंचे, विराट कोहली ने नंबर-4 पर बल्लेबाजी करते हुए भारत के लिए 6,000 से ज्यादा रन बना लिए हैं।इसके अलावा कोहली ने इस मामले में गुणप्पा विश्वनाथ को पछाड़ा है,जिन्होंने नंबर-4 पर खेलते हुए 5,081 रन बनाए हैं। दिलीप वेंगसरकर (2,605), विजय मांजरेकर (1,714) भी कोहली से काफी पीछे छूट गए हैं। कोहली सिर्फ दूसरे ऐसे भारतीय बल्लेबाज हैं, जिन्होंने टेस्ट में नंबर-4 पर बल्लेबाजी करते हुए 6,000 रन पूरे किए हैं।

कोहली ने पूरे किये 7500 टेस्ट रन

न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलते हुए विराट कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में 7,500 रनों का आंकड़ा भी पार कर लिया है। वो ऐसा करने वाले छठे भारतीय बल्लेबाज हैं, जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में इतने रनों का आंकड़ा छुआ है। कोहली ने ये आंकड़ा महज 154 पारियों में पार किया है। वहीं टेस्ट में गावस्कर ने भी 154 पारियों में 7,500 रनों का आंकड़ा छुआ था। इसके अलावा कोहली अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 42वें ऐसे बल्लेबाज बन गए हैं, जिन्होंने 7,500 रनों का आंकड़ा छुआ है।

धोनी से आगे निकले विराट

टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सफल कप्तान बनने के विराट कोहली एक और कदम आगे बढ़ गए हैं। विराट कोहली अब टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे ज्यादा मैचों में कप्तानी करने वाले कप्तान बन गए हैं। भारत की कप्तानी करते हुए ये विराट का 61वां मैच है। उन्होंने 60 मैच में भारत की कप्तानी करने वाले महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया है।

गांगुली-अजहरुद्दीन से भी निकले आगे

इस मामले में विराट ने पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली और मोहम्मद अजहरुद्दीन को भी पीछे छोड़ दिया है। गांगुली ने जहां 49 मैचों में भारत की कप्तानी की वहीं अजहरुद्दीन ने 47 मैचों में टीम इंडिया का जिम्मा संभाला। सुनील गावस्कर ने भी 47 मैचों में ही भारत की कप्तानी की थी।

Share