इंटरनेशनल ड्रग सिंडिकेट का भंडाफोड़,चार लोग गिरफ्तार,2500 करोड़ की हेरोइन बरामद

इंटरनेशनल ड्रग सिंडिकेट का भंडाफोड़,चार लोग गिरफ्तार,2500 करोड़ की हेरोइन बरामद

नई दिल्ली। स्पेशल सेल की टीम ने शुक्रवार को एक अंतरराष्ट्रीय ड्रग रैकेट का भंडाफोड़ किया है।इसमें एक अफगानी नागरिक हजरत अली व तीन अन्य लोगों रिजवान अहमद,गुरजोत सिंह,गुरदीप सिंह को गिरफ्तार किया गया है।इस रैकेट के लिए पाकिस्तान से फंडिंग होने के सबूत भी मिले हैं।ड्रग रैकेट अफगानिस्तान,यूरोप और देश के कई राज्यों तक फैला हुआ है।कुल 354 किलोग्राम उच्च शुद्धता की हेरोइन और ड्रग्स बनाने का केमिकल जिसे ड्रग्स को तैयार करने के लिए इस्तेमाल होना था।करीब 100 किलोग्राम बरामद किया गया है।इस हेरोइन का मूल्य करीब 2500 करोड़ रुपए बताया जा रहा है।इस मामले में संदिग्ध लोगों से पूछताछ की जा रही है।

गौरतलब है कि स्पेशल सेल ने वर्ष 2019 में मल्टी स्टेट ऑपरेशन में 330 किलो अफगान हेरोइन जब्त की थी।जब से,टीम इस ऑपरेशन से आगे खुफिया जानकारी को विकसित कर रहीं थीं।हाल ही में यह जानकारी मिली थी कि रिजवान अहमद उर्फ रिजवान कश्मीरी नामक एक व्यक्ति दिल्ली और पंजाब,मध्य प्रदेश और हरियाणा जैसे कुछ अन्य राज्यों के क्षेत्र में नशीली दवाओं के कारोबार में शामिल है। 5 जुलाई को सूत्रों से एक विशिष्ट सूचना मिली कि रिजवान दक्षिणी दिल्ली के घिटोरनी इलाके में प्रतिबंधित ड्रग्स की खेप पहुंचाने के लिए जाने वाला है।

सूचना पर स्पेशल सेल की टीम द्वारा एक जाल बिछाया गया और संदिग्ध रिजवान अहमद उर्फ रिजवान कश्मीरी को उस समय गिरफ्तार कर लिया गया जब वह 1 किलो हेरोइन के पैकेट की डिलीवरी के लिए ले जा रहा था।बरामदगी के आधार पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा मामला दर्ज किया गया।जांच के दौरान एक बहुत बड़ी खेप का हिस्सा मालूम चला।पूछताछ में आरोपी रिजवान कश्मीरी ने खुलासा किया कि एक अफगान नागरिक ईशा खान उससे यह काम करवाता है।वह भारत छोड़कर अब अफगानिस्तान में छिपा हुआ है।

रिजवान कश्मीरी के बताई हुई जगह पर हरियाणा के सेक्टर-65 स्थित एनएसजी विहार को-ओपरेटिव हाउसिंग सोसायटी में गुरप्रीत सिंह और गुरजोत सिंह के ठिकानों पर छापेमारी की गई। इस छापेमारी में गुरप्रीत सिंह और गुरजोत सिंह को गिरफ्तार किया गया। उनसे पूछताछ पर उनके बतलाए अनुसार सोसाइटी की पार्किंग में खड़ी हुई एक हुंडई वर्ना कार UP15 CW 6969 (166 KG) और होंडा अमेज कार DL 10 CK 0539 (115 KG) से भारी मात्रा में हेरोइन बरामद हुई। इसके अलावा गुरप्रीत सिंह और गुरजोत सिंह के किराए के मकान में एक बेड में विशेष तौर पर बनाए हुए स्थान से भी 70 किलोग्राम नशीले पदार्थ/हेरोइन की बरामदगी हुई। इस तरह हेरोइन की कुल बरामदगी अब 352 KG हो गई। आरोपी गुरप्रीत सिंह और गुरजोत सिंह ने खुलासा किया कि वे इस ड्रग रैकेट को वर्तमान में पुर्तगाल में छिपे हुए नवप्रीत सिंह उर्फ नव नामक रैकेट के मुखिया के निर्देशों पर संचालित कर रहे हैं।इसके अलावा रिजवान कश्मीरी के बतलाए अनुसार एक अफगानी नागरिक हजरत अली को भी हरियाणा के गुरुग्राम क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया और उसके कब्जे से भी 02 KG हेरोइन बरामद की गई। हजरत अली से पूछताछ के आधार पर (हेरोइन) तैयार करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले लगभग 100 किलोग्राम विभिन्न रसायन भी बरामद किए गए।

यह लोग हुए गिरफ्तार

गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी पुत्र मनमोहन सिंह निवासी गांव जमशेर खास, जालंधर, पंजाब।

गुरजोत सिंह उर्फ गोलू पुत्र जसबीर सिंह निवासी H.No 34/4, गली नंबर 8, जालंधर पंजाब।

हजरत अली पुत्र अख्तर मोहम्मद निवासी झाड़सा गांव, सेक्टर-39, गुरुग्राम, हरियाणा (कंधार,

अफगानिस्तान का स्थायी निवासी)।

 

Share