ऊर्जा न्याय में हमारा विश्वास पेट्रोटेक में बोले प्रधानमंत्री

ग्रेटर नोएडा । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा पेट्रोलियम प्रौद्योगिकी पर आयोजित 13वें सम्मेलन ‘पेट्रोटेक 2019’ का उद्घाटन करते हुये कहा कि उर्जा आर्थिक विकास का महत्त्वपूर्ण आधार है । भारत तेजी से सबके लिए उर्जा की तरफ बढ़ रहा है और देश में ब्लू फ्लेम क्रांति गति पकड़ रही है। 
। इसके माध्यम से गरीब भी विकास में भागीदार हो सकते हैं। हम ऐसे युग में प्रवेश कर रहे हैं जहां सबके लिए उर्जा उपलब्ध होगी। भारत इस दिशा में नेतृत्व कर रहा है और दुनिया के अन्य देश हमारे अनुभव से सीख सकते हैं। 

मोदी ने कहा कि वर्ष 2014 में 55 प्रतिशत परिवारों के पास रसोई गैस कनेक्शन थे  जो अब बढ़कर 90 प्रतिशत पर पहुंच गए है । बहुत जल्द ही इसके सौ—प्रतिशत पर पहुंचने की उम्मीद है।
सम्मेलन में मौजूद पेट्रोलियम उत्पादक देशों को एक तरह से लक्षित करते हुये उन्होंने कहा ‘तेल एवं गैस व्यापार की वस्तुएं मात्र नहीं हैं। ये हम सभी के लिए रोजाना काम आने वाली जरूरत हैं। चाहे कार चलना हो , रसोई में खाना पकाना हो या विमान की उड़ान, सबके लिए ईंधन की जरूरत है। इस के लिए हमको न्याय पूर्ण मूल्य की ओर बढ़ना होगा।

उन्होंने कहा कि वह उर्जा न्याय में यकीन रखते हैं। सभी को उर्जा मिले जिससे उनका जीवन सही दिशा मे आगे बड़े इसको सुनिश्चित करने की दिशा में सरकार के प्रयासों के परिणाम भी दिखने लगे हैं। उन्होंने कहा हमारी सरकार द्वारा ‘देश के हर गांव तक बिजली पहुच चुकी है और इस साल के अंत तक हर घर तक पहुंच जायेगी।

बड़े पैमाने पर एलईडी बल्बों के इस्तेमाल से लोगों के बिजली बिल में सालाना कुल 17 हजार करोड़ रुपये की बचत हो रही है। उज्ज्वला योजना के तहत छह करोड़ 40 लाख परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन दिये गये हैं। ब्लू फ्लेम क्रांति गति पकड़ रही है।’ उन्होने कहा की हमारी सरकार सब का साथ सब का विकास के साथ सभी को आगे लेकर चल रही है।

more recommended stories