नक्सल अटैक में बलराज सिंह ने साथी का खून रोकने के लिए उतारी अपनी पगड़ी

नक्सल अटैक में बलराज सिंह ने साथी का खून रोकने के लिए उतारी अपनी पगड़ी

नई दिल्ली। बीते शनिवार को नक्सलियों और जवानों के बीच हुई मुठभेड़ में हमारे 22 जवान शहीद हो गए और 31 जवान घायल हो गए। ऐसे में जब घायल हुए जवानों में से एक जवान बलराज सिंह ने उस दिन की आपबीती सुनाई जो काफी सहारनीय है।

जब रायपुर में नक्सली जवानों पर गोलियां बरसा रहे तो उस वक्त हमारे जवान भी उनका मुंहतोड़ जवाब दे रहे थे। उसी वक्त बलराज सिंह के साथी जवान अभिषेक पांडेय नक्सलियों की गोली का शिकार हो गया। उसके शरीर से खून की बहने लगा। ऐसे में बलराज सिंह ने साहस दिखाते हुए अपनी पगड़ी खोली और अभिषेक के घाव पर बांध दी। जिससे उसका थोड़ा खून बहना कम हुआ। अपने साथी की जान बचाते वक्त कुध बलराज सिंह नक्सलियों की गोली के शिकार हो गए। वो भी गंभीर रूप से घायल हैं और इस वक्त उनका अस्पताल में भर्ती हैं।

बलराज सिंह के इस साहस भरे काम की सहारना करते हए स्पेशल डीजी अनिल विज ने उन्हें अस्पताल में पहुंचकर पगड़ी भेंट की। घायल जवाब बलराज सिंह की इस आपबीती को सुनकर सभी देशवासी उनपर गर्व कर रहे हैं। जब अनिल विज ने बलराज सिंह को पगड़ी भेंट की तो उस वक्त उनकी तस्वीर खीची गई जो इस वक्त सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है। उस तस्वीर अनिल विज ने लिखा- सिख जवान के जज्बे को मेरा सलाम।

हालांकि जवानों ने भी आनन-फानन में मोर्चा संभाला। फिर जवाबी कार्रवाई भी की। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बल लगातार घायल जवानों को वहां से निकालने की कोशिश में जुटे हुए हैं। डीएमअवस्थी ने बताया कि इस मुठभेड़ में DRG के 4 और CRPF के 1 जवान शहीद हुए है। इससे पहले भी 23 मार्च को ही नारायणपुर जिले में सुरक्षाकर्मियों से भरी बस पर नक्सलियों ने IED से हमला किया था। जिसमें भी 5 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे।

Share