Corona से ठीक होने के बाद कैसे दूर करें थकान और कमजोरी ?

Corona से ठीक होने के बाद कैसे दूर करें थकान और कमजोरी ?

इलाज के बाद कोरोना संक्रमित ठीक हो जाते हैं, लेकिन ठीक होने के बाद थकान और कमजोरी कई दिनों तक बनी रह सकती है। ऐसे में जरूरी है कि आप इस बात पर ध्‍यान दें कि रिपोर्ट नेगेट‍िव आने के बाद क्‍या खाएं और कैसी जीवन शैली अपनाए कि पूरी तरह से स्‍वस्‍थ्‍य हो जाएं। तेजी से रिकवरी और सामान्य रूटीन की तरफ वापसी के लिए जरूरी है अच्छा पोषण।

कोविड-19 के बाद थकान पर कैसे पाएं काबू?

डॉक्टरों के मुताबिक सुरक्षात्मक प्रोटोकॉल का पालन करते हुए,पोषण,फिटनेस और संपूर्ण सेहत पर ध्यान दिए जाने की जरूरत होती है।
आसान व्यायाम करें। धीमा वॉक,सांस का व्यायाम और मेडिटेशन से शुरुआत करें।
आपके शरीर को आराम की जरूरत होती है। सख्त वर्कआउट से परहेज करें।
रोजाना सुबह 30 मिनट की धूप लें।
एक खजूर, थोड़ा किशमिश, दो बादाम, रात भर पानी में भीगे हुए दो अखरोट सुबह में खाएं।
हल्का और आसानी से पचने वाला फूड जैसे दाल का सूप और चावल आदि का इस्तेमाल करें।
अत्यधिक शुगर, तला हुआ या प्रोसेस फूड इस्तेमाल करने से बचें।
पौष्टिक खिचड़ी वैकल्पिक दिन पर खाएं।
सप्ताह में 2-3 बार सहजन (मोरिंगा) का सूप पीएं।
जीरा-धनिया-सौंफ की चाय एक दिन में दो बार यानी भोजन के एक घंटे बाद पीएं।
रात में जल्दी सो जाएं। जितना बेहतर आप सोएंगे उतना ही जल्दी ठीक होंगे।

कोरोना के बाद कमजोरी घटाने के लिए जरूर खाएं ये 4 चीजें

अनार
सेब
मुनक्का
अंजीर
इम्यूनिटी बूस्ट करेंगी ये जड़ी बूटियां

त्रिफला के फायदे

एंटी-ऑक्सीडेंट गुण मौजूद
रोज सुबह त्रिफला जूस का सेवन करें
इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है
त्रिफला में एंटी इंफ्लामेटरी गुण
इसके अलावा त्रिफला का सेवन करने के अन्य फायदे

मोटापा से दिलाए निजात

अगर आप मोटापा से ग्रस्त है, तो रोज सुबह एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच त्रिफला पाउडर और शहद डालकर पीने से आपको मोटापा कम हो जाएगा।

आंखों की रोशनी बढाएं
अगर आपकी कम दिखाई देता है तो एक चम्मच त्रिफला पाउडर को किसी मिट्टी के बर्तन में भिगो दें। और इसे दूसरे दिन सुबह छानपर पिएं। इससे आपको रोशनी तेज हो जाएगी।

दांतों को रखें मजबूत
रात को थोड़े से पानी में त्रिफला चूर्ण को भिगो दें। सुबह ब्रश करने के बाद इस पानी को मुंह में भरकर थोड़ी देर के लिए रखें। इससे आपके दांत मजबूत हो जाएंगे।

मुंह की बदबू को भगाएं
अगर आपके मुंह से बदबू आ रही है तो इसके लिए त्रिफला के पानी से कुल्ला करें। इससे बदबू के साथ-साथ मुंह की बीमारियों से भी निजात मिल जाएगा।

वजन करें कम
त्रिफला में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो आपकी पाचन तंत्र को फिट रखने के साथ वजन कम करने में मदद करता है। इसके लिए 1 गिलास पानी में चम्मच त्रिफला चूर्ण मिलाकर रातभर के लिए रग दें। दूसरे दिन इस पानी को आधा हो जाने तक उबाले। फिर इस उबले हुए पानी में शहद मिलाकर इसका सेवन करें।

बालों को रखें हेल्दी
अगर आप हमेशा बालों को झड़ने की समस्या से परेशान रहते है तो इसके लिए -5 ग्राम त्रिफला चूर्ण को 15 एमएल लौह भस्म में मिलाकर दिन में बार सेवन करें। कुछ ही दिनों में आपको असर नजर आ जाएगा।

गोल्डन मिल्क भी इम्यूनिटी करेगा बूस्ट

दूध में हल्दी डालकर उबाले
रात में सोने से पहले पिएं
इम्यूनिटी को बूस्ट करता है
गिलोय का काढ़ा
गिलोय का काढ़ा इम्यूनिटी बूस्ट कर आपको कई रोगों से बचाए रखेगा। जानिए इस काढ़े को कैसे घर पर आप आसानी से बना सकते हैं।

गिलोय काढ़ा बनाने के लिए जरूरी चीजें

गिलोय का एक टुकड़ा
4-5 तुलसी की पत्तियां
2 काली मिर्च
थोड़ी सी कच्ची हल्दी
थोड़ी अदरक
थोड़ी अश्वगंधा
बनाने की विधि- अगर आप गिलोय का काढ़ा पीना चाहते हैं तो इसके लिए इमामदत्ता में गिलोय के एक टुकड़ा, 4-5 तुलसी की पत्तियां, 2 काली मिर्च, थोड़ी सी कच्ची हल्दी, थोड़ी अदरक, थोड़ी अश्वगंधा डालकर कूट लें। इसके बाद एक पैन में 2 गिलास पानी डालकर गर्म करें और इसमें यह कूटी हुई सामग्री डाल दें। अब धीमी आंच में पकने दें। जब पानी आधा बचे। तो गैस बंद करके इसे कप में छान लें और हल्का गुनगुना इसका सेवन करें। यह एक बार में आधा से एक गिलास पिया जा सकता है।

इम्यूनिटी सुधारने के टिप्स
सुबह जल्दी उठना और सुबह की धूप लेने से आपको ऊर्जावान, सकारात्मक और जीवंत का एहसास दिलाता है। सुबह में व्यायाम करने से आपको दिन भर ऊर्जावान महसूस कराता है। इसके अलावा आपके मूड में भी सुधार होता है।
शारीरिक और मानसिक रूप से आपको लचीला बनाता है। प्राणायाम जैसे अनुलोम-विलोम,भ्रामरी,कपालभाती,भस्त्रिका को रोजाना किया जा सकता है। आप घर पर हर्बल चाय भी पी सकते हैं जो आपकी इम्यूनिटी को सुधारने में मदद करती है।
गैजेट्स का इस्तेमाल सीमित करें। समाचार देखें मगर रोजाना एक घंटे से ज्यादा नहीं।
जब कभी आपको बाहर निकलना पड़े,मास्क पहनें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

Share