हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदला,अब रानी कमलापति होगा स्टेशन का नाम 

हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदला,अब रानी कमलापति होगा स्टेशन का नाम 

-कल पीएम मोदी करेंगे रेलवे स्टेशन का उद्घाटन

-हबीबगंज रेलवे स्टेशन को करीब 100 करोड़ की लागत से विश्व स्तरीय अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित किया गया

भोपाल।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम रानी कमलापति करने के लिए पीएम मोदी का आभार माना है। उन्होंने कहा कि मैं प्रदेश की जनता तथा जनजातीय समाज की ओर से पीएम मोदी का आभारी हूं। उन्होंने हबीबगंज स्टेशन का नाम रानी कमलापति स्टेशन कर जनजातियों के गौरव और सम्मान को बढ़ाता है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को जारी अपने बयान में कहा कि पीएम मोदी की पहल पर ही हबीबगंज रेलवे स्टेशन को आधुनिक स्वरूप प्रदान किया गया है। यह अपने आप में एक उदाहरण है। पीएम मोदी ने रेलवे स्टेशन का नाम रानी कमलापति रखा है। रानी कमलापति गोंड समाज का गौरव थीं। वे अंतिम हिंदू रानी थी। बाहरी सेनापति दोस्त मोहम्मद ने छल कपट और धोखा देकर उनका राज्य हड़पने का काम किया। जब रानी कमलापति ने यह देखा कि विजय संभव नहीं है,तो उन्होंने आत्म-सम्मान की खातिर जल जौहर किया। रानी कमलापति के बेटे नवल शाह लालघाटी के पास मारे गए।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बचपन में हम लोग सुनते थे “ताल तो भोपाल ताल बाकी सब तलैया- रानियों में रानी कमलापति बाकी सब रनैया”। उनके नाम से भोपाल में कमला पार्क पहले से ही बना है। पीएम मोदी ने जनजाति गौरव दिवस के अवसर पर हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम रानी कमलापति रेलवे स्टेशन कर रख जनजातियों के गौरव और सम्मान को बढ़ाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी का मैं हृदय से आभारी हूं।

उल्लेखनीय है कि हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदलने की मांग लम्बे समय से उठ रही थी। भाजपा नेताओं के साथ-साथ स्थानीय नागरिक भी यह मांग उठाते रहे हैं। इसी को लेकर एक दिन पहले शुक्रवार को मध्य प्रदेश शासन के परिवहन मंत्रालय द्वारा केंद्र सरकार को हबीबगंज स्टेशन का नाम बदलकर रानी कमलापति के नाम पर करने का प्रस्ताव भेजा था। केन्द्रीय गृह मंत्रालय को भेजे गए इस प्रस्ताव पर केंद्र सरकार ने शुक्रवार को देर रात ही मुहर लगा दी थी। हबीबगंज रेलवे स्टेशन को करीब 100 करोड़ की लागत से विश्व स्तरीय अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित किया गया है। पीएम मोदी 15 नवम्बर को जनजातीय गौरव दिवस के मौके पर इस विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन का उद्घाटन करेंगे। इससे पहले इसका नाम बदलकर भोपाल की रानी कमलापति के नाम पर कर दिया गया है।

Share