राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने प्रदर्शन कर शिक्षा मंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने प्रदर्शन कर शिक्षा मंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

सिरसा (सतीश बंसल ) । राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ सिरसा ने जिला उपायुक्त के कार्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्शन करते हुए अपनी मांगों के समर्थन में अतिरिक्त उपायुक्त के माध्य्म से शिक्षा मंत्री हरियाणा को ज्ञापन सौंपा। इस आशय की जानकारी देते हुए संघ के जिला महासचिव इन्द्र जाखड़ ने एक पे्रस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि संघ की मांग है कि फेस लिफ्टिंग पर खर्च राशि की अदायगी जिला परिषद द्वारा ही सीधे सम्बन्धित फर्म के खाते में की जाए न कि स्कूल प्रबन्धन समितियों के माध्यम से संबंधित फर्म को।

उन्होंने बताया कि ज्ञापन के माध्यम से मांग की गई है कि जेबीटी अध्यापकों की परिवार पहचान-पत्र सर्वे में ड्यूटी न लगाई जाए क्योंकि लंबे समय से कोरोना के चलते स्कूलों में विद्यार्थी नहीं आ रहे। जहां एक ओर अब विद्यार्थी आने शुरू हुए हैं वहीं नए शैक्षणिक सत्र के प्रवेश आरम्भ हो रहे हैं, ऐसे में तमाम शिक्षण प्रक्रिया प्रभावित होना स्वभाविक है।

इस अवसर पर संघ के जिलाध्यक्ष बंसीलाल झोरड़ ने भारी संख्या में उपस्थित अध्यापकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिक्षक का मूल कार्य अध्यापन है व नियम विरुद्ध किसी-भी शिक्षक को प्रताडि़त नहीं होने दिया जाएगा व शिक्षक समुदाय किसी-भी कीमत पर जिला परिषद व प्रशासन के तुगलकी फरमान नहीं मानेगा और यदि फिर भी शिक्षक समुदाय को स्कूल प्रबन्धन के माध्यम से फेस लिफ्टिंग पर खर्च राशि की अदायगी के लिए बाध्य किया गया तो शिक्षक समुदाय मुख्यमंत्री से मिलने में भी देरी नहीं करेगा।

इस अवसर पर जिला कार्यकारिणी के पदाधिकारीगण दलवीर कुंडर, शेषपाल, लखविन्दर रतन, जयचन्द स्वामी, रिछपाल मानव, जयपाल पचार, ओमप्रकाश मैहता, सुनील कड़वासरा, धर्मचंद बालासर, हरबंस लाल, सुनील कुमार सहित सभी खण्डों के प्रधान कुलविंद्र सिंह सरां, भगतसिंह, महावीर न्यौल, सुरेन्द्र ढिल्लों, अजमेर जांगड़ा, विनोद देम्बीवाल, रायसिंह गोदारा, सोनिया कटारिया, राजकुमार कासनियां, कृष्ण कन्हैया, महावीर मल्हान, मनीष ख्यालिया, महावीर ढ़ाका, परमजीत सिंह, भूपसिंह, विजय मानधनियां,मिलवर्तन सिंह, रैनू, सरोज, ऊषा, पूनम आदि सहित भारी संख्या में शिक्षकगण उपस्थित थे।

Share