कट्टरपंथियों ने दुर्गा पूजा करने पर सांसद नुसरत को ट्विटर पर दी गाली

पश्चिम बंगाल। तृणमूल कॉन्ग्रेस की सांसद नुसरत जहां एक बार फिर से कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं। दुर्गा पूजा में शामिल होने के कारण उन पर आरोप लगाए जा रहे हैं कि उन्होंने गुनाह किया है और इस्लाम की तौहीन की है।

दुर्गा पूजा 2020 महा अष्टमी: टीएमसी सांसद और बंगाली अभिनेत्री नुसरत जहान ने  सुरूचि संघ के दुर्गा पंडाल में की पूजा, देखें वीडियो

समाचार एजेंसी एएनआई ने कल अपने ट्विटर पर उनकी एक वीडियो शेयर की। इस वीडियो में वह धाक खेलती, माँ दुर्गा के सामने हाथ जोड़ती और नृत्य करती नजर आईं।

मोहम्मद वसीम ने लिखा, “शर्म आनी चाहिए तुम्हें नुसरत जहां, तुम्हें हमारे धर्म की इज्जत करनी चाहिए। कोई तुम्हें जश्न मनाने से नहीं रोक रहा लेकिन तुम मूर्ति पूजन कर रही हो। शर्म आनी चाहिए। तुम मुसलमान के नाम पर कलंक हो। मैं तुम्हें हदीस पढ़ने की सलाह दूँगा।”

नुसरत जहां ने दुर्गा पूजा के अवसर पर अपने इंस्टाग्राम पर भी अपनी डांस की वीडियो अपलोड की। हालाँकि थोड़ी ही देर में कट्टरपंथियों ने उनपर निशाना साधना शुरू कर दिया। इनमें से कुछ लोग भारत के थे और कुछ बांग्लादेश के भी थे।

दुर्गा पूजा से पहले भी नुसरत पर भड़के थे कट्टरपंथी

गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं है जब नुसरत जहां को इस्लामी कट्टरपंथियों का शिकार होना पड़ा हो। पिछले महीने भी उन्हें इसी तरह निशाना बनाया गया था, जब उन्होंने महालया के अवसर पर माँ दुर्गा की भाँति श्रृंगार किया था और सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट की थी। @mkkhan486 आईडी से उनके लिए लिखा गया था, “तुम्हारा समय नजदीक आ गया है। अल्लाह से डरो। क्या तुम अपना शरीर ढक कर नहीं रख सकती। छी छी छी।”

एक अन्य का कहना था कि नुसरत को बतौर मुसलमान यह सब करते हुए शर्म आनी चाहिए। लेकिन उनमें कोई शर्म नहीं बची है। यूजर ने यह भी कहा था कि नुसरत जहान्नुम में जाएँगी। उन्हें कोई शर्म नहीं है। मगर अल्लाह उन्हें देख रहा है।

याद दिला दें कि पिछले साल भी जब नुसरत जहां ने निखिल जैन से शादी के बाद दुर्गा पूजा में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई थी, तब भी कट्टरपंथियों ने इसी तरह उन्हें अपने निशाने पर लिया था और उनकी शादी को लेकर कई सवाल उठाए थे। साथ ही उन्हें जल्द ही मारने की धमकी भी दी थी।

वहीं नुसरत की शादी से नाराज देवबंद के उलेमा ने कहा था कि अगर उन्हें ग़ैर-मज़हबी कार्यों में इतनी ही रुचि है तो वो अपना नाम बदल लें। उलेमा ने पूछा कि अभिनेत्री नुसरत आख़िर ग़ैर-मज़हबी काम कर क्यों रही हैं? एजेंसी