एंटीगुआ से गायब हुआ भगोड़ा हीरा व्यापारी मेहुल चोकसी

एंटीगुआ से गायब हुआ भगोड़ा हीरा व्यापारी मेहुल चोकसी

नई दिल्ली। भगोड़ा हीरा व्यापारी मेहुल चोकसी कैरिबियाई द्वीपीय देश एंटीगुआ एवं बारबुडा में कथित तौर पर लापता हो गया है और रविवार से ही पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। परिवार ने चोकसी की सुरक्षा को लेकर चिंतित है।स्थानीय मीडिया संस्थान ‘एंटीगुआन्यूजरूम’ ने पुलिस आयुक्त एटली रॉडने के हवाले से मंगलवार को बताया कि पुलिस भारतीय कारोबारी मेहुल चोकसी का पता लगाने में जुटी है,जिसके लापता होने की अटकलें हैं।चोकसी के वकीलों ने कहा कि व्यवसायी द्वीप के दक्षिणी हिस्से में रात के खाने के लिए गया था और फिर कभी नहीं देखा गया। इस बात की संभावना जताई जा रही है कि वह एंटीगुआ से भाग कर क्यूबा चला गया हो

चोकसी और उनके भतीजे नीरव मोदी पर कुछ बैंक अधिकारियों के साथ मिलकर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,578  करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने का आरोप है। चोकसी के वकील से भी इस संबंध में सवाल किए गए,लेकिन उनकी ओर से भी कोई जवाब नहीं मिला है।चोकसी ने जनवरी 2018 में भारत से भागने से पहले ही, 2017 में कैरिबियाई द्वीपीय देश एंटीगुआ एवं बारबुडा की नागरिकता हासिल कर ली थी।

एंटीगुआ पुलिस ने जारी किया हुलिया
पुलिस ने पहचान के उद्देश्य से उसकी शारीरिक बनावट की जानकारी देते हुए जनता से कहा कि अगर किसी को कोई जानकारी मिलती है तो वह जॉनसन प्वाइंट पुलिस स्टेशन या आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) को सूचित करें। पुलिस के बयान में कहा गया है, “भारतीय मूल का मेहुल चोकसी भूरे रंग का और पांच फीट छह इंच (5′ 6″) ऊंचाई का व्यक्ति है। जो भारी रूप से गंजा है। पुलिस चोकसी के ठिकाने को जानने के लिए जनता की सहायता मांग रही है।”

खबरों के मुताबिक, सीबीआई ने चोकसी का पता लगाने के लिए इंटरपोल से संपर्क किया है। इस बात की संभावना जताई जा रही है कि वह एंटीगुआ से भाग कर क्यूबा चला गया हो। आपको बता दें कि भारत से भागने के बाद मेहुल चोकसी ने कैरिबियाई द्वीप राष्ट्र एंटीगुआ और बारबुडा की नागरिकता ले ली थी।एंटीगुआ और बारबुडा में रहने वाले 61 वर्षीय भारतीय कारोबारी और गीतांजलि समूह के मालिक मेहुल चोकसी को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने वांटेड घोषित कर रखा है। मेहुल चोकसी ने मेगा-घोटाले के सामने आने से एक महीना पहले 4 जनवरी, 2018 को एंटीगुआ भागने से पहले 13,578 करोड़ रुपए पीएनबी धोखाधड़ी में करीब 7,080 रुपए करोड़ की हेराफेरी की।

चोकसी के खिलाफ पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है। वह कथित तौर पर 2013 में शेयर बाजार में हेरफेर में शामिल था।सार्वजनिक क्षेत्र के ऋणदाता पंजाब नेशनल बैंक में धोखाधड़ी करने के बाद चोकसी देश छोड़कर भाग गया। बाद में उसे भगोड़ा घोषित किया गया। पिछले साल दायर एक चार्जशीट में, ईडी ने दावा किया था कि चोकसी ने न केवल भारतीय बैंकों को बल्कि दुबई और संयुक्त राज्य अमेरिका में भी ग्राहकों और ऋणदाताओं को धोखा दिया है। उनकी 2,500 करोड़ रुपए की संपत्ति पहले ही कुर्क की जा चुकी है।

Share