स्वास्थ्य केन्द्रों पर हुई गर्भवतियों की नि:शुल्क जांच

स्वास्थ्य केन्द्रों पर हुई गर्भवतियों की नि:शुल्क जांच

आगरा।जनपद में शुक्रवार को 30 शहरी और 18 ग्रामीण स्वास्थ्य इकाइयों सहित जिला महिला अस्पताल में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस मनाया गया। इसमें गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच की गई और उच्च जोखिम वाली गर्भवतियों को भी जागरुक
किया गया। इसके साथ ही लक्ष्य दंपत्ति को परिवार नियोजन के साधनों को उपलब्ध कराए गए एवं उनकी काउंसलिंग की गई।

नेशनल हेल्थ मिशन के नोडल अधिकारी डॉ. संजीव वर्मन ने बताया कि शुक्रवार को जनपद में शहरी और ग्रामीण स्वास्थ्य इकाइयों पर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस मनाया गया। इस अवसर पर गर्भवती महिलाओं का अल्ट्रासाउंड सहित, यूरिन, हीमोग्लोविन,
शुगर, सिफलिस , वजन, ब्लड प्रेशर, ब्लड ग्रुप और एचआईवी और कोविड -19 की जाँच की गई और उच्च जोखिम वाली गर्भवती महिलाओं का चिन्हांकन किया गया।परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. विनय कुमार ने बताया कि कार्यक्रम केदौरान लक्ष्य दंपत्ति को बास्केट ऑफ च्वॉइस की सहायता से परिवार नियोजन साधनअपनाने के लिए प्रेरित किया गया।

इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी विनय कुमार ने जगनेर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया। जिला मातृ स्वास्थ परामर्शदाता संगीता भारती और पीएमएमवीवाई की जिला कार्यक्रम समन्वयक सन्नू द्वारा जगनेर सीएचसी पीएमएसवाई दिवस पर सपोर्टिव
सुपरविजन किया गया। जगनेर सीएचसी पर शुक्रवार को 112 द्वितीय तिमाही एवं तृतीय तिमाही गर्भवती महिलाओं की प्रसवपूर्व जांच यूरिन, हीमोग्लोविन, शुगर, सिफलिस , वजन, ब्लड प्रेशर, ब्लड ग्रुप और एचआईवी और कोविड -19 की जाँच की गई। जीवनी मंडी नगरीय स्वास्थ्य केंद्र की प्रभारी डॉ. मेघना शर्मा ने बताया कि पीएमएसएमए के तहत हुए एचआरपी डे पर 117 गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य का परीक्षण किया गया।

उन्होंने बताया कि सभी महिलाओं की एचआईवी सहित सिफलिस, ब्लड इत्यादि की जांच की गई। डा. मेघना ने बताया कि कोरोना काल में गर्भवती को अपना खास ख्याल रखने की जरूरत है, क्योंकि गर्भावस्था के दौरान आम दिनों की अपेक्षा रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती
है। इसलिए कोविड-19 के संक्रमण से बचने के लिए घर पर रहकर अपने स्वास्थ्य का खास ख्याल रखें। खाने पीने का विशेष ध्यान दें, व्यायाम करें और डॉक्टर से संपर्क करती रहे। समय-समय पर अपनी जांच कराती रहे। गर्भवती को कोरोना से डरने की नहीं बल्कि लड़ने की जरूरत है।

Share