मंडलायुक्त ने डेंगू प्रभावित क्षेत्रों और अस्पतालों का किया निरीक्षण

मंडलायुक्त ने डेंगू प्रभावित क्षेत्रों और अस्पतालों का किया निरीक्षण

फिरोजाबाद। शहर में डेंगू,मलेरिया वायरल बुखार की रोकथाम व प्रभावी नियंत्रण हेतु जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयासों व चलाए जा रहे जन जागरूकता अभियान के क्रम में मंगलवार को  मंडलायुक्त आगरा मण्डल आगरा अमित गुप्ता ने जिलाधिकारी चंद्रविजय सिंह,मुख्य विकास अधिकारी चर्चित गौड़ व नगर आयुक्त प्रेरणा शर्मा के साथ संयुक्त चिकित्सालय शिकोहाबाद,सौ शैय्या हॉस्पीटल,नगर निगम,कौशल्या नगर,एलान नगर,झलकारी नगर आदि प्रभावित क्षेत्रों में साफ-सफाई एवं चिकित्सा व्यवस्था का आकस्मिक निरीक्षण किया।

मंडलायुक्त ने सौ शैय्या व डेलिगेशन आइसोलेशन वार्ड में आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त ने सौ शैय्या अस्पताल में चल रहे दवा वितरण व मेडिकल रिपोर्ट काउंटर पर पहुंचकर वहां मरीजों की मेडिकल रिपोटर्स व उसकी समस्त दवाओं के बारे में परिजनों से व उसका इलाज कर रहे बाल रोग विशेषज्ञ डा0 एल के गुप्ता से हाल जाना और निर्देशित किया कि किसी भी मरीज को उपचार सम्बन्धित कठिनाई का सामना न करना पडेे़।

मंडलायुक्त ने सौ शैय्या हॉस्पिटल के सेंट्रल लेबोरेट्री का भी निरीक्षण किया। इसके उपरांत मंडलायुक्त ने बच्चों के सभी वार्ड में पहुंचकर वहां भर्ती बच्चों से उनके हाल जाने एवं उनसे बात कर उनसे पूछा कि यहां आपको कोई परेशानी तो नहीं हैै। उन्होंने दिए जा रहे खाने की गुणवत्ता को जांचने के लिए मरीज शौर्य की चाची निवासी हिमाऊपुर से खाने की थाली को खुलवाकर एक-एक खाने की चीजों को देखा और उनसे खाने के बारे में पूंछा। मंडलायुक्त  ने प्रिंसिपल मेडिकल कॉलेज डॉ.संगीता अनेजा को निर्देशित किया कि खाने की गुणवत्ता को बेहतर किया जा सकता है। इसी प्रकार से उन्होंने मरीज कृष्णा की मां शकुंतला देवी से पूछा कि इलाज से आप संतुष्ट है कि नही,खाना-पीना व दवाएँ सब समय से मिल रही हैं या नही। उन्होंने वार्ड मे कमजोर बच्चों के लिए डाइटिशियन नियुक्त करने और स्पेशल डायट देने के लिए मेडिकल कॉलेज प्राचार्या को निर्देशित किया।

निरीक्षण के दौरान मंडलायुक्त ने नगर निगम का निरीक्षण किया। मंडलायुक्त ने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि नगर में और ज्यादा टीमों को सक्रिय किया जाए।बारिश के मौके पर नगर में पम्प सेट की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए,जहां-जहां पानी भरा हुआ है। उसमें एण्टीलार्वा का छिड़काव,फॉगिग,कैरोसीन का छिडकाव अवश्य किया जाए। जिलाधिकारी ने जीएम जलकल से पूछा कि झलकारी नगर का पानी खत्म हुआ कि नही तो इस पर बताया कि सक्शन मशीन द्वारा पानी की निकासी कर दी गयी है। मंडलायुक्त  ने नगर आयुक्त,जीएम जलकल व जेडएसओ से पूछा कि शहर में कितने पम्पसेट व मशीनें बढ़ाई गई है और कहां-कहां चल रही है इस पर बताया गया कि 30 डीजल पम्प,8 मूम्वमेंट पम्प और 3 सक्शन मशीन के अतिरिक्त ट्रैक्टर पम्प के द्वारा जल निकासी की जा रही है। उन्होंने  नगर निगम के अधिकारियों कहा कि बारिश होने पर मशीनों व पम्पसेटों की उपलब्धता कम नही पडनी चाहिए,इसके लिए और अधिक पम्प सेट खरीद लिए जाए। वर्तमान स्थिति को देखते हुए नगर निगम में आउटसोर्सिंग से मैनपावर को बढ़ाया जाए। शहर में संचालित छोटी-बडी 120 डेयरी संचालको पर कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए।

Share