delhi rohini court: गैंगवार में गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की गोली मारकर हत्या,वकील बनकर आए थे हमलावर

delhi rohini court: गैंगवार में गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की गोली मारकर हत्या,वकील बनकर आए थे हमलावर

दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में गैंगवार हुआ है। शुक्रवार दोपहर को यहां मोस्ट वॉन्टेड गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसके बाद कोर्ट परिसर में शूटआउट हुआ और हमलावरों को भी मार गिराया गया। इस शूटआउट में अबतक तीन लोगों की मौत की खबर है। इनमें से एक जितेंद्र है, जबकि दो हमलावर हैं जो कि जितेंद्र पर ही हमला करने आए थे।

सोर्स का कहना है कि जितेंद्र गोगी पर हमले की आशंका शुरू से ही प्रबल रही है। विरोधी गैंग काफी खूंखार रहा है। इसीलिए जब भी जितेंद्र गोगी की कोर्ट में पेशी होती थी तो उसे थर्ड बटालियन के बजाय स्पेशल सेल की सिक्योरिटी के बीच कोर्ट में पेशी पर लाया जाता था।

दिल्ली पुलिस के मुताबिक, दो हमलावर वकील बनकर कोर्ट परिसर में पहुंचे थे जिन्होंने गैंगस्टर जितेंद्र पर गोली चलाई।स्पेशल सेल की टीम जितेंद्र को कोर्ट रूम में लेकर गई थी, जहां पर ये घटना हुई थी। माना जा रहा है कि दिल्ली के टिल्लू गैंग ने जितेंद्र की हत्या की है। जो दो हमलावर ढेर हुए हैं, उनमें एक राहुल है जिसपर 50 हजार का इनाम है, जबकि एक दूसरा बदमाश है।

जितेंद्र को दो साल पहले ही स्पेशल सेल ने गुरुग्राम से गिरफ्तार किया था। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के मुताबिक, जितेंद्र गोगी ने अपराध के जरिए अकूत संपत्ति कमाई थी। जितेंद्र गोगी के नेटवर्क में 50 से ज्यादा लोग हैं।

गौरतलब है कि जितेंद्र गोगी को साल 2020 में गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया था। गोगी के साथ कुलदीप फज्जा को भी पकड़ा गया था। कुलदीप फज्जा बाद में 25 मार्च को कस्टडी से फरार हो गया था। फज्जा जीटीबी अस्पताल से फरार हुआ था जिसके बाद उसका एनकाउंटर हुआ था।

मारे गए एक बदमाश की पहचान राहुल के रूप में हुई है। राहुल टिल्लू ताजपुरिया गैंग का बदमाश है। सोर्स का कहना है कि टिल्लू ताजपुरिया और नीरज बवानिया के बीच गैंगवार के चलते इस वारदात को अंजाम दिया गया। दोनों के बीच गैंगवार में अब तक कई लोग मारे भी जा चुके हैं।

Share