प्रदेशफिरोजाबाद

पीएनबी के 127 वें स्थापना दिवस के मौके पर ग्राहक गोष्ठी का हुआ आयोजन,कई मुद्दों पर हुई चर्चा

ओटीपी तथा अपने बैंक खाते की डिटेल किसी अन्य से शेयर ना करें: जोनल मैनेजर सत्यवान ओहलन

फिरोजाबाद। पंजाब नेशनल बैंक के 127 वें स्थापना दिवस के मौके पर ग्राहक गोष्ठी का आयोजन सोमवार की शाम को शहर के होटल मून में किया गया। इस दौरान आगरा से आए मुख्य अतिथि सत्यवान ओहलन जोनल मैनेजर,फ़िरोज़ाबाद एवं मैनपुरी के बड़े उद्योगपतियों व बैंक खाताधारकों से रूबरू हुए तथा उनकी समस्याएं सुनी और पीएनबी बैंक की सेवाओं को और बेहतर बनाने के सुझाव मांगे। गोष्टी में जोनल मैनेजर ने बेबाकी से पत्रकारों के सवालों के जवाब दिए और लोगों से ओटीपी(वन-टाइम पासवर्ड) तथा अपने खाते की डिटेल किसी अन्य से शेयर ना करने की अपील की।

ग्राहक गोष्टी की शुरुआत जोनल मैनेजर एवं शहर के उद्योगपति राजकुमार मित्तल ने लाला लाजपत राय के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर की। इसके बाद मुख्य अतिथि जोनल मैनेजर सत्यवान,सर्किल हेड इटावा बृजेश यादव,रैम प्रमुख इटावा अनूप सक्सेना एमसीसी प्रमुख सुहाग नगर फिरोजाबाद सुभाष शर्मा ने मंच पर स्थान ग्रहण किया।

कार्यक्रम के दौरान एमसीसी फिरोजाबाद सुभाष शर्मा ने पीएनबी बैंक के इतिहास और उसके राष्ट्रीयकरण पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पंजाब नेशनल बैंक का राष्ट्रीयकरण 13 अन्य बैंकों के साथ जुलाई, 1969 में हुआ। छोटी सी शुरुआत से आगे बढ़ते हुए यह आज देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक बन गया है। पंजाब नैशनल बैंक का ब्रिटेन में एक बैंकिंग सहायक उपक्रम है,साथ ही हांगकांग और काबुल में शाखाएं हैं और अल्माटी,शंघाई और दुबई में प्रतिनिधि कार्यालय है।

रैम प्रमुख इटावा अनुज सक्सेना ने पीएनबी बैंक की योजनाओं के बारे में बैंक ग्राहकों को जानकारी दी।उन्होंने कहा पंजाब नैशनल बैंक भारत का एक प्रमुख और पुराना बैंक है। यह एक अनुसूचित बैंक है। पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) को 19 मई, 1897 को भारतीय कंपनी अधिनियम के तहत अनारकली बाज़ार लाहौर में इसके कार्यालय के साथ पंजीकृत किया गया था।सर्किल हेड इटावा बृजेश यादव ने बैंक लोन आदि विषयों पर चर्चा की। कहा कि पंजाब नैशनल बैंक भारत का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी वाणिज्यिक बैंक है और भारत के 764 शहरों में इसकी लगभग 45000 शाखायें हैं। इसके लगभग 37 लाख ग्राहक हैं।

इसके उपरांत जोनल मैनेजर सत्यवान ओहलन बैंक के खाताधारक उद्योगपतियों से रूबरू हुए और उनकी समस्याएं सुनी तथा उसके निराकरण की बात कही। अंत में जोनल मैनेजर ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि इस सम्मेलन का उद्देश्य पीएनबी के ग्राहकों की सुविधाएं बेहतर बनाना तथा उनकी समस्याओं को दूर करना हमारा मुख्य उद्देश्य है। गवर्नमेंट ने 4 बैंकों को मर्ज करके बैंकों की संख्याओं को घटा दिया है जिससे कि इकोनामी ऑफ स्केल बड़ा हो। कार्यक्रम का संचालन अजय शंकर सक्सेना ने किया। इस अवसर पर पीएनबी सुहाग नगर मुख्य प्रबंधक अजय सक्सेना,सुमित सपरा,वरिष्ठ प्रबन्धक विमल पांडेय,गणेश नगर शाखा प्रबंधक दीनबन्धु त्रिपाठी,एम सी सी फ़िरोज़ाबाद ऋषभ मिश्र,अवधेश कनौजिया,अनामिका एवं फ़िरोज़ाबाद एवं मैनपुरी के उद्योगपति मौजूद रहे।

 

 

 

 

Related Articles

Back to top button