देश

देश के 125 जिलों में कोरोना संक्रमण की रफ्तार हुई तेज,महाराष्ट्र में सबसे बुरा हाल

दिल्ली।  देश में पिछले 15 दिनों में कोरोना संक्रमण में एक बार फिर तेजी आई है। उत्तर और पश्चिम भारत के कई राज्यों में संक्रमण की रफ्तार ने तो डरा दिया है। देश के 125 जिलों में कोरोना केस पिछले 15 दिनों में डबल हो गए हैं। कुछ जिलों में तो 200 से 500 फीसदी तक का उछाल देखने को मिला है।

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बुधवार को बताया कि 70 जिलों में कोरोना केसों में 150 फीसदी से अधिक की तेजी आई है तो 55 जिलों में 100 से 150 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है। देश के किन राज्यों के किन जिलों में संक्रमण की रफ्तार खतरनाक है। पंजाब: पंजाब के रूपनगर (256%), अमृतसर (123%), मोगा (100%), शहीद भगत सिंह नगर (51%), कपूरथला (51%) में कोरोना केस सबसे अधिक तेजी से बढ़ रहे हैं।

हरियाणा: हरियाणा में सबसे खतरनाक रफ्तार यमुनानगर में है जहां 300 फीसदी की रफ्तार से कोरोना केस बढ़ रहे हैं। करनाल में 245 फीसदी का उछाल आया है तो फरीदाबाद में 225 फीसदी, पंचकूला में 215 फीसदी की तेजी आई है। कैथल में (180%), कुरुक्षेत्र (158%), अंबाला (121%) फीसदी की तेजी दिखी है। गुरुग्राम में भी पिछले 15 दिनों में केस तेजी से बढ़े हैं।

हिमाचल प्रदेश: यहां सिरमौर जिले में 367 फीसदी की रफ्तार से केस बढ़े हैं तो सोलन में 267 फीसदी का उछाल दिखा है। वहीं, उना में 220 फीसदी की तेजी आई है।

राजस्थान: राज्य के भीलवाड़ा में 275 फीसदी की तेजी से केस बढ़े हैं। राजसमंद में 200 फीसदी, अजमेर में 200 फीसदी, बांसवारा में 120 फीसदी, उदयपुर में 155 फीसदी और डुंगरपुर में 113 फीसदी की तेजी से संक्रमण बढ़ा है।

गुजरात: गुजरात में सबसे अधिक तेजी मेहसाणा में आई है। यहां कोरोना केसों में 225 फीसदी की तेजी आई है। सूरत में 167 पर्सेंट, भावनर में 143 फीसदी, आनंद में 114, खेडा में 114 फीसदी की तेजी है। वहीं, अहमदाबाद, गांधीनगर और भरूच में भी केस तेजी से बढ़े हैं।

महाराष्ट्र: इस समय देश सबसे अधिक नए केस महाराष्ट्र में आ रहे हैं। यहां नांदेड़ में 385 फीसदी की तेजी आई है तो नंदुरबार में 224 फीसदी, बीड में 219 फीसदी, धुले में 169 फीसदी, नाशिक में 157 फीसदी, जलगांव में 147 फीसदी, भंडारा में 140 फीसदी, नागपुर में 122 फीसदी, चंद्रपुर में 95 फीसदी की तेजी आई है। छत्तीसगढ़: यहां सूरजपूर में 425 फीसदी, सरगुजा में 138 फीसदी, रायपुर में 91 फीसदी की रफ्तार से केस बढ़े हैं।

आंध्र प्रदेश: यहां कृष्णा जिले में पिछले 15 दिनों में 171.4 पर्सेंट केस बढ़ गए हैं। ईस्ट गोदावरी में 150 फीसदी, विशाखापत्तनम में 100 पर्सेंट चित्तौड़ में 92 फीसदी तेजी आई है।

कर्नाटक: यहां बिदर में 200 फीसदी की तेजी आई है तो कलबुर्गी में संक्रमण की रफ्तार 136 फीसदी बढ़ गई है। धरवाड में 100 फीसदी, दक्षिण कन्नड में 82 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है।

मध्य प्रदेश: यहां रतलाम में सर्वाधिक 500 फीसदी की तेजी आई है। ग्वालियर में कोरोना केसों में 360 पर्सेंट का उछाल दिखा है तो खरगोन में 250 फीसदी, उज्जैन में 214 फीसदी, बुरहारपुर में 183 फीसदी, जबलपुर में 179 फीसदी और भोपाल में 103 फीसदी की रफ्तार से केस बढ़े हैं।

महाराष्ट्र में सबसे बुरा हाल, एनसीआर में भी हो सकता है विस्फोट
स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि एक्टिव केसों में 60 फीसदी अकेले महाराष्ट्र में हैं और यहां पॉजिटिविटी रेट 16 पर्सेंट हो गई है। वहीं पंजाब में यह दर 6.8 फीसदी है। जबकि राष्ट्रीय औसत 5 फीसदी है। दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 400 से अधिक केस आए हैं। यहां पॉजिटिविटी रेट 1 पर्सेंट से कम है, लेकिन इसमें तेजी आई है। दिल्ली से सटे हरियाणा के कुछ राज्यों में कोरोना केसों में उछाल आने से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में भी कोरोना केस बढ़ने की आशंका है।

Related Articles

Back to top button