इन राज्यों में कोरोना का कहर फिर हुआ तेज,31 मार्च तक लॉकडाउन

इन राज्यों में कोरोना का कहर फिर हुआ तेज,31 मार्च तक लॉकडाउन

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण ने एक बार फिर जोर पकड़ लिया है, कोविड- 19 के मरीजों की संख्या अब फिर बढ़ने लगा है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए एकबार फिर सख्‍त पाबंदियों का लगाने की शुरूआत हो गया है। तमिलनाडु सरकार ने 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया है और कोरोना से जुड़े अन्य प्रोटोकॉल के उल्लंघन पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश जारी किया हैं। दरअसल राज्य में विधानसभा चुनाव होने जा रहा हैं ऐसे में राज्‍य सरकार की ओर से कोरोना से बचाव के लिए ये कदम उठाया गया है।

तमिलनाडु 31 मार्च तक के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए तमिलनाडु सरकार ने नोटिफिकेशन जारी किया है। जिसमे कहा गया है कि कोरोना की रोकथाम के लिए राज्‍य में लॉकडाउन को 31 मार्च तक के लिए बढ़ाया जा रहा है। इसके तहत सार्वजनिक जगहों और यात्रा के दौरान लोगों के लिए मास्‍क पहनना अनिवार्य होगा। साथ ही सार्वजनिक जगहों और दुकानों पर शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। वहीं सर्वाजनिक जगहों पर थूकने पर स्‍थानीय अधिकारियों द्वारा जुर्माना लगाया जाएगा।

हाल ही में तमिलनाडु में कोरोना से संक्रमण के 479 नए मामले सामने आए हैं जबकि तीन लोगों की मौत हो गई। इससे राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8.51 लाख हो गई जबकि महामारी से मरने वालों का आंकड़ा 12,496 हो गया है। मौजूदा वक्‍त में राज्‍य में 4,022 मरीजों का इलाज चल रहा है।

महाराष्‍ट्र में तेजी से बढ़ रहा संक्रमण
वहीं देश में सबसे ज्यादा कोरोना की मार झेल रहे महाराष्‍ट्र में संक्रमण बड़ी तेजी से बढ़ रहा है। यहां एक दिन में 8,623 नए मामले सामने आए हैं जिसके चलते राज्‍य में एक बार फिर पाबंदियां लगा दी गई है।

कोरोना संक्रमण की तेज रफ्तार को देखते हुए महाराष्ट्र के मराठवाड़ा क्षेत्र में एतियात बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं। हिंगोली में सोमवार से सात मार्च तक के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया है। ऐसे में स्कूल, कॉलेज, धार्मिक स्थल और कार्यक्रम स्थल बंद रहेंगे। बैंकों में केवल प्रशासनिक काम ही किए जाएंगे।

आज से टीकाकरण की दूसरे चरण की शुरूआत
बता दें कि देश में आज से देश में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण की शुरूआत हो रहा है। सोमवार यानी आज सुबह 9 बजे से सीनियर सिटिजंस जो 60 साल से ज्‍यादा उम्र हैं और को-मॉर्बिडिटीज वाले जो 45 से 60 साल उम्र के हैं उनके लिए रजिस्‍ट्रेशन ओपन हो जाएंगे। बता दें कि इस चरण में करीब 30 करोड़ की प्राथमिकता वाली आबादी को कवर किया जाएगा जिन्‍हें कोविड का ज्यादा खतरा है।

टीकाकरण के इस चरण में सरकारी और निजी केंद्रों पर वैक्सीन दी जाएगी। वैक्‍सीन लगवाने के लिए इस क्षेणी में आने वाले लोगों को रजिस्‍ट्रेशन कराना अनिवार्य है। इसके लिए आप खुद ऐप/पोर्टल के जरिए रजिस्‍टर करें या सीधे टीकाकरण केंद्र पहुंचें।

Share